उसे राष्ट्रपति ने सम्मानित किया था, वो रेलवे परीक्षा की तैयारी कर रही थी और एक दिन उसका गैंगरेप कर दिया गया

देश में रेप और महिलाओं के साथ अपराध की घटनाएं थमने का नाम नहीं ले रही हैं.

हरियाणा के रिवाड़ी की रहने वाली Survivor, महेंद्रगढ़ में कोचिंग क्लास करने जा रही थी. बुधवार को महेंद्रगढ़ के कनीना से 3 कॉलेज छात्रों ने उसका अपहरण कर लिया.

Survivor: उसे Victim या पीड़िता नहीं कह रहे हैं, वो एक Survivor है और उसे ऐसे ही संबोधित किया जाना चाहिए. पीड़िता कह कर उसकी गरिमा को ठेस नहीं पहुंचा सकते.

आरोपियों ने 3 ज़िलों में उसे घुमाया और झज्जर में खेतों में ले गए. Survivor को नशीली दवा दी गई थी. Survivor के साथ लगभग 12 लोगों ने गैंगरेप किया.

Source: NDTV

नशे की हालत में ही Survivor को आरोपियों ने कनीना बस स्टैंड पर शाम को 4 बजे के आस-पास छोड़ दिया.

इसके बाद आरोपी ने ही पीड़िता के माता-पिता को फ़ोन करके बताया कि उनकी बेटी बस-स्टैंड के पास बेहोशी की हालत में पड़ी है.

Source: DB

घरवालों ने Survivor को अस्पताल पहुंचाया जहां डॉक्टर्स ने रेप की पुष्टि की. रिवाड़ी थाना में ज़ीरो एफ़आईआर लिखवाई गई जिसे बाद में कनीना थाना में ट्रांसफ़र कर दिया गया.

कनीना थाना ने एफ़आईआर पर कार्रवाई करने से ये कहकर इंकार कर दिया कि घटना उनके एरिया से बाहर हुई है.

Source: IB Times

मामले के 48 घंटे बाद भी किसी की भी गिरफ़्तारी नहीं हुई है.

Survivor को एकेडमिक क्षेत्र में उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिए राष्ट्रपति द्वारा सम्मानित किया गया था.

Survivor की मां ने ANI से ये कहा:

ऐसे हालात हैं देश के. सरकारें नारा देती हैं, बजट सत्र में सुरक्षा के लिए कई करोड़ दिए जाते हैं. महिलाओं की शिक्षा पर ज़ोर दिया जाता है और ये होता है.

सिर्फ़ एक सवाल,

'जिस देश में लोगों को किसके फ़्रीज में गाय का मांस रखा है, पता चला जाता है वहां एक महिला की चीखें सुनाई नहीं दी?'

इस बात की कोई गारंटी नहीं कि उस लड़की की जगह पर आपका कोई जानने वाला नहीं होगा.

Source: India Today

Feature Image Source: Zee News