दुनिया के हर माता-पिता चाहते हैं कि उनके बच्चे अपनी मेहनत और लगन के बलबूते भविष्य में उनसे आगे निकले और उनको उस पर गर्व हो. ऐसा ही एक मामला तेलंगाना से सामने आया है, जहां एक बाप अपनी बेटी को सैल्यूट करता है क्योंकि उसकी बेटी ने उसको गौरवान्वित कराया है. वो पिछले तीन दशकों से पुलिस में कार्यरत हैं, वहीं उनकी बेटी ने भी 4 साल पहले पुलिस फ़ोर्स ज्वाइन की थी. लेकिन बाप-बेटी की इस जोड़ी ने कभी भी नहीं सोचा होगा कि उनकी ज़िन्दगी में कभी ये दिन भी आएगा.

Source: indiatimes

indianexpress के अनुसार, हैदराबाद के राशाकोंडा कमिश्नरी के मलकानगिरी के पुलिस उपायुक्त एआर उमामहेश्वर सरमा पिछले 30 सालों से पुलिस विभाग में कार्यरत हैं और 2019 में वो रिटायर होने वाले हैं और उनकी बेटी सिंधू सरमा 2014 बैच की आईपीएस अधिकारी हैं और जगतियाल जिला की पुलिस अधीक्षक हैं. और एक दिन वो मौक़ा आया जब ए.आर. उमा महेश्वर सरमा ने अपनी बेटी जो कि ओहदे में उनकी सीनियर हैं को सलामी दी.

Source: indianexpress

बाप-बेटी की ज़िन्दगी में ये लम्हा तब आया जब बीते रविवार वो दोनों हैदराबाद के पास कोंगरा कलां में तेलंगाना राष्ट्र समिति (TRS) की एक पब्लिक मीटिंग के दौरान आमने-सामने आये. यहां वर्दी में तैनात डीसीपी पिता ने जब IPS बेटी को सैल्यूट किया, तो वहां मौजूद हर शख़्स के चेहरों पर मुस्कान आ गई और ख़ुद उनके चेहरे पर भी गर्व के साथ हल्की सी मुस्कान दौड़ गई.

Source: indiatimes

उमा महेश्वर ने कहा, 'ड्यूटी के दौरान पहली बार हम आमने-सामने आए हैं. मैं सौभाग्यशाली हूं, जो उनेक साथ काम करने का मौका मिला. वो मेरी सीनियर ऑफ़िसर हैं. मैं जब उन्हें देखता हूं, मैं सलाम करता हूं. हम अपनी-अपनी ड्यूटी करते हैं और इस पर चर्चा नहीं करते हैं, लेकिन घर पर हम लोग बिल्कुल पिता और बेटी की तरह रहते हैं.' वहीं जनसभा में महिलाओं की सुरक्षा की जिम्मेदारी संभाल रहीं सिंधू ने कहा, 'मैं बहुत खुश हूं, ये एक अच्छा अवसर है कि हमें साथ काम करने का मौक़ा मिला.