नए साल के पहले हफ़्ते में पुणे से एक अच्छी ख़बर सामने आई है. दरअसल, भारतीय रेलवे के पुणे डिवीज़न ने अपने स्टेशनों, रिज़र्वेशन केंद्रों और कार्यशालाओं पर सौर ऊर्जा का उपयोग करके 2017 में 1.45 करोड़ रुपये का बिजली का बिल बचाया है.

बेहद सराहनीय काम के बारे में चर्चा करते हुए रेलवे अधिकारियों ने बताया कि हमने परंपरागत तरीके बिजली का उपयोग करके 14.54 लाख यूनिट बिजली बचाई है. स्टेशन पर एलईडी, रिज़र्वेशन केंद्रों पर सौर-संचालित यूपीएस सिस्टम, इसके अलावा Miraj और Ghorpadi पर सौर वॉटर हीटर का इस्तेमाल कर हम बिजली बचाने में सफ़ल रहे.

वहीं पुणे के डिवीजनल रेलवे मैनेजर मिलिंद देवसकर ने बातचीत के दौरान बताया, 'पुणे डिवीज़न ऊर्जा बचाने के लिए गंभीर है और इस दिशा में प्रभावी कदम उठाए जा रहे हैं.'

Source : divyamarathi

इसके साथ ही Persistent Foundation की सहायता से पुणे स्टेशन पर 160 किलोवाट क्षमता वाले दो सौर ऊर्जा उत्पादन संयंत्र स्थापित किए गए हैं. इतना ही नहीं, Daundaj स्टेशन पर 10 किलोवाट क्षमता वाले Fans और Lights भी लगाई गई हैं.

आगे बताते हुए वो कहते हैं कि Energy Efficiency Services Ltd. के साथ ‘Energy Performance Agreement’ नामक एक प्रोजक्ट भी साइन किया गया है. इसके तहत सौर ऊर्जा का उपयोग कर सलाना 7.31 लाख किलोवाट बिजली की बचत की जाएगी, जिसके ज़रिए हम 61.35 रुपये बचा सकते हैं.

Source : IndianExpress