यौन शोषण के तमाम मामलों में हमने लड़की को तकलीफ़ से गुज़रते देखा होगा, लेकिन ये अपने आप में अलग मसला है. इसमें एक लड़की को दो लड़कियों ने ही टारगेट किया और कुछ इस तरह परेशान किया कि उसने मौत को ही गले लगा लिया.

source: news18

करनाल के रेजिडेंशियल गर्ल्स स्कूल में ग्यारहवीं की एक छात्रा ने दो बहनों द्वारा लेस्बियन सम्बन्ध बनाने के लिए दबाव दिए जाने के बाद आत्महत्या कर ली. रविवार को पुलिस ने दोनों बहनों को आईपीसी की धारा 306 के तहत गिरफ़्तार कर लिया है. शुक्रवार को 16 साल की छात्रा अपने हॉस्टल के कमरे में छत से लटकी हुई मिली थी. वो अपनी बहन के साथ उस रूम में रहती थी, जो कि BA द्वितीय वर्ष की स्टूडेंट है. दोनों आरोपी बहनें पानीपत की हैं और वे भी ग्यारहवीं और BA द्वितीय वर्ष की स्टूडेंट हैं.

source: thegentlewoman

मृत लड़की की बड़ी बहन के अनुसार, जब वो क्लास अटेंड करके कमरे में आई, तो उसने कमरा अन्दर से बंद पाया. जब कई बार खटखटाने के बावजूद दरवाज़ा नहीं खुला, तो उसने हॉस्टल प्रशासन को इसकी जानकारी दी. जब हॉस्टल वालों ने कमरे का दरवाज़ा तोड़ा, तो लड़की फांसी पर लटकी हुई मिली.

ASI लखबीर सिंह, जो कि बल्ला पुलिस पोस्ट के इंचार्ज हैं, ने बताया कि मृत लड़की की बड़ी बहन ने जानकारी दी है कि वो दो बहनों द्वारा लेस्बियन सम्बन्ध बनाने के लिए दबाव डाले जाने से बहुत परेशान थी. हालांकि स्कूल प्रशासन ने इस तरह की कोई भी शिकायत मिलने से इनकार किया है. मृत लड़की की फेमिली का कहना है कि उन्होंने इस शोषण के बारे में स्कूल प्रशासन को बताया था. उनका कहना है कि शिकायत किए जाने के बाद ही लड़की को बहन के रूम में शिफ्ट किया गया था.

पुलिस के अनुसार, उन लड़कियों के बयान रिकॉर्ड किए जा रहे हैं, जो इस हादसे से पूर्व उस लड़की से मिली थीं.

source: TOI