स्विट्ज़रलैंड के एक कपल पर फ़तेहपुर सीकरी में हमला हुआ, उन्हें डंडों व पत्थरों से पीटा गया. 24 वर्षीय Quentin Jeremy Clerc को सिर में फ़्रैक्चर हुआ है और उसकी 24 वर्षीय साथी, Marie Droz की भी हड्डियों में फ़्रैक्चर हुआ.

इस घटना के बाद भारत में आने वाले विदेशी पर्यटकों कि सुरक्षा पर सवाल उठने लगे हैं. इसी बीच रेडियो मिर्ची ने एक जिंगल बनाया.

इस जिंगल में पर्यटकों से भारत न आने को कहा गया. ये हैं इस जिंगल के लिरिक्स:

"फ़तेहपुर कि शान देखो,

कपल्स हुए परेशान देखो,

नए भारत की शान देखो,

अथिति का अपमान देखो,

इंडिया आना आपकी सेहत के लिए हानिकारक है

अतिथि देवो नहीं! #मत आओ इंडिया"

यहां आप ये जिंगल सुन सकते हैं.

सोशल मीडिया पर इस जिंगल को लेकर काफ़ी आक्रोश है. देखिये सोशल मीडिया पर क्या है लोगों की इस जिंगल पर प्रतिक्रिया:

लोगों ने रेडियो मिर्ची से इसके लिए माफ़ी मांगने को कहा है. इस बवाल के बाद ये जिंगल हटा लिया गया और रेडियो मिर्ची ने माफ़ी भी मांग ली है.

वैसे ये पहली बार नहीं है, जब भारत में विदेशी पर्यटकों के साथ बदसलूकी हुई हो. आगरा में ही 2014 में एक होटल के मैनेजर ने जर्मन महिला के साथ छेड़छाड़ की थी, 2007 में दो जापानी पर्यटकों का गैंगरेप हुआ था.

विदेशी पर्यटकों से बदसलूकी के आंकड़े काफ़ी चौंकाने वाले हैं. केवल गोवा में ही पिछले 12 सालों में 245 विदेशी पर्यटकों कि मौत हो चुकी है. हर साल यहां 20 विदेशी पर्यटकों कि जान जाती है.

इसी साल मार्च में 28 वर्षीय आयरिश महिला Danielle McLaughlin का गोवा में रेप करने के बाद मर्डर कर दिया गया था.

ये आंकड़े साफ़ कर देते हैं कि विदेशी पर्यटकों के लिए भारत में उपयुक्त सुरक्षा इंतज़ामों की कमी है. जो देश 'अतिथि देवो भवः' के संस्कार को मानता हो, वहां ऐसी घटनाएं होना शर्मनाक है.

पर्यटकों को देश में आने से ही मना करने की बजाय बेहतर ये होगा कि हम सब मिल कर इस देश को विदेशी पर्यटकों के लिए सुरक्षित जगह बनाने में योगदान दें. अगर वो असुरक्षित भी हैं, तो भी लोगों कि वजह से ही हैं.

Source: Hindustantimes