फ़िल्मों में अकसर रातों-रात लोगों कि ज़िंदगी बदलते हुए देखा था. सच कहूं तो असल ज़िंदगी में मैंने कभी किसी तरह के चमत्कार की उम्मीद नहीं की, लेकिन केरल के इस लड़के की कहानी जानने के बाद, आपको ये यकीन हो जाएगा कि रियल लाइफ़ में भी मैजिक होते हैं.

14 साल R Manikandan को La Liga Club Real Madrid में खेलने का सुनहरा अवसर मिला है. ये वही Manikandan है, जो कभी अपनी बहन के साथ केरल की सड़कों पर भीख मांग कर, ज़िंदगी का गुज़ारा करता था. हालांकि, ये काम करते हुए इसने कभी सोचा भी नहीं था कि एक दिन वो इस तरह अपने सपनों की उड़ान भरेगा.

Source: HT

बात 2011 की है Manikandan अपनी बहन के साथ Alappuzha ज़िला स्थित Oachira Parabrahma मंदिर परिसर के बाहर भीख मांग रहा था, दोनों बच्चों के साथ एक बूढ़ी औरत भी थी जो कि बाद में कहीं लापता हो गई. इस दौरान आनथालय के सुपरवाइज़र, श्रीकुमार ने दर-दर भटकते इस लड़के की मदद के लिए हाथ आगे बढ़ाया और उसे Kollam के Sree Narayana Trust Central School भेज दिया गया. वहीं उसकी बहन को गर्ल्स चिल्ड्रेन होम में. यही वो दौर था जब धीरे-धीरे Manikandan की ज़िंदगी बदलने लगी और वो बाकी साथियों के Fathima Mata College के ग्राउंड में खेलने जाने लगा. शुरूआत में किसी ने भी उसके खेल पर ध्यान नहीं दिया. वो सिर्फ़ बॉल उठाता और चला जाता.

ये भी सच है कि हर दिन एक सा नहीं होता है. एक दिन कोच, एमपी अभिलाष की नज़र Manikandan पर पड़ी और उन्होंने उसके अंदर छिपी प्रतिभा को तलाशा. साथ ही बिना देरी करते हुए उन्होंने उसे सीनियर खिलाड़ियों के साथ खेलने का मौका दिया. यही वो दिन था जब Manikandan कि ज़िंदगी ने यू-टर्न लिया और अब वो अंडर-15 I-League के लिए खेलेगा. इसके लिए वो जुलाई में महीने भर के लिए स्पेन की यात्रा पर है. इतना ही नहीं, I-League फ़्री होने के बाद उसे फुटबॉल की और तकनीकि सीखाने के लिए US या Latin American भेज दिया जाएगा.

Source: wikipedia

सुपरवाइज़र श्रीकुमार बताते हैं कि इस लड़के की ख़ासियत है कि ये अपने शब्दों से नहीं, बल्कि अपने काम से शोर मचाता है. 14 वर्षीय ये खिलाड़ी ज़िले और चेन्नई स्थित Football Plus Professional Soccer Academy का प्रतिनिधित्व भी करता है. बताया जा रहा है कि जब वो चेन्नई में था, तो कुछ विदेशी प्रशिक्षकों ने विशेष प्रशिक्षण के लिए Manikandan के नाम का सुझाव दिया था. वहीं कोच अभिलाष का कहना है कि उसकी टेकनीक और क्षमता उसके खेल को बेहतर बनाती है.

Source : Financialexpress