आए दिन देश के किसी न किसी कोने से गैंगरेप की घटना सामने आ जाती है. सड़क, मॉल और ट्रांसपोर्ट तो छोड़ो, अब लड़कियां स्कूल में भी सुरक्षित नहीं हैं. ताज़ा मामला राजस्थान के सीकर ज़िले है.

ज़िले में स्थित एक स्कूल के डायरेक्टर और टीचर ने न सिर्फ़ 12वीं में पढ़ने वाली छात्रा का सामूहिक बलात्कार किया, बल्कि धोखे से उसका ऑबर्शन भी करा दिया. स्कूल के इन दरिंदो ने वारदात को इतनी चलाकी से अंजाम दिया कि किसी को इनकी इस काली करतूत की ख़बर भी नहीं हुई. दरअसल, स्कूल का डायरेक्टर जगदीश यादव और शिक्षक जगत सिंह गुर्जर छात्रा को एक्स्ट्रा क्लॉस देने के बहाने उसका शारीरिक उत्पीड़न कर रहे थे.

हादसे से अंजान माता-पिता को इस वारदात की जानकारी तब मिली, जब छात्रा की बिगड़ती तबियत देख उसे हॉस्पिटल में एडमिट कराना पड़ा. वहीं छात्रा के गर्भवती होने की जानकारी मिलते ही आरोपियों ने शाहपुरा के अस्पताल में पीड़िता का गर्भपात करा डाला. वारदात की जानकारी देते हुए नीमकाथाना के पुलिस उपाधीक्षक कुशाल सिंह ने कहा कि 'पीड़िता ने अपनी शिकायत में जगदीश यादव और जगत सिंह का नाम दर्ज कराया है.'

पुलिस ने स्थानीय अस्पताल के डॉक्टर रजनीश शर्मा और उनकी पत्नी कनन शर्मा के खिलाफ़ भी लड़की की मर्ज़ी के बिना, गर्भपात करने के मामले में केस दर्ज किया है.

Source : Outlookindia