फ़ेक न्यूज़ को ख़त्म करो. 16 दिसंबर को एक ट्वीट के ज़रिये ये संदेश राजस्थान पुलिस ने दिया है.

Source: patrika

@Ashok6510 नाम के ट्विटर हैंडल ने इस दावे के साथ एक वीडियो शेयर किया कि कुछ मुसलमान पुरुष राजस्थान के राजपुत परिवारों पर हमला कर रहे हैं. उस ट्वीट में लिखा था, 'उटाम्बर में मुस्लिम समुदाय के पुरुष राजपुतों के घरों में घुस गए और महिलाओं को अनुचित तरीके से छुआ. अगर पांच घंटे के भीतर ऐसी हालत है, तो कल्पना करो कि पांच साल में क्या होगा.'

@Ashok6510 के ट्वीट पर राजस्थान पुलिस ने तुरंत प्रतिक्रिया दी और ट्वीट कर के बताया कि ये वीडियो पुराना है और इसका उटाम्बर की घटना से कोई ताल्लुक नहीं है और फ़ेक वीडियो ट्विटर हैंडल को कार्यवाही करने की चेतावनी भी दी.

राजस्थान पुलिस ने अपने ट्वीट में कहा, 'राजस्थान पुलिल आपको Watch कर रही है. ये पुराना पुरानी वीडियो है, जो झारखंड के रांची का है. आप तुरंत इसे Delete करें अन्यथा Cyber Unit को ये Case सौंप दिया जाएगा.'

राजस्थान पुलिस के इस ट्वीट के बाद @Ashok6510 ने वो फ़ेक वीडियो के अपने अकाउंट से हटा दिया.

आपको बता दें कि राजस्थान में मतगणना के दिन उटाम्बर में दो समुदायों के बीच पथराव और झड़प हुई थी, जिससे इलाके में अशांति फ़ैल गई थी.