राम मंदिर का सपना दिखाकर भले ही कई पार्टियां सालों से अपनी राजनीतिक रोटियां सेंक रही हों, पर एक ऐसा बैंक भी है, जो पिछले 5 वर्षों से राम मंदिर निर्माण के लिए पैसा जमा कर रहा है. इस बैंक की ख़ासियत ये है कि इसके कर्ता-धर्ता खुद राम भक्त हनुमान है.

मध्य प्रदेश के होशंगाबाद के संकट मोचन हनुमान मंदिर में बना ये बैंक दुनिया में एकलौता ऐसा बैंक है, जहां सभी ग्राहक राम नाम से लिखी कापियां जमा करते हैं. ये बैंक इतना पॉपुलर हो रहा है कि लोग इसकी कार्यप्रणाली को देखने यहां पहुंच रहे है और इसकी सदस्यता भी ले रहे हैं.

रामनाम बैंक के सदस्यों के मुताबिक, राम नाम लिखी कापियों का विशेष महत्व है. इससे एकत्रित राशि अयोध्या में बनने वाले राम मंदिर के लिए दान की जाएगी. इसके अलावा मंदिर समिति कापियों को नवनिर्मित राम मंदिरों के गर्भगृहों में रखा जाता, जिससे सकारात्मक ऊर्जा का प्रवाह होता है. इस बैंक की स्थापना संकट मोचन हनुमान मंदिर में पांच साल पहले रामफेरी के सदस्यों द्वारा की गई थी.

रामफेरी संगठन के अध्यक्ष ब्रजकिशोर लौवंशी का कहना है कि 'बैंक द्वारा श्रद्धालुओं को राम नाम की कॉपी मुफ़्त दी जाती है, जिसे सदस्य संकट मोचन हनुमान मंदिर में ही जमा करते हैं.' ब्रजकिशोर आगे बताते हैं कि 'एक बार इस बैंक की सदस्यता लेने के बाद व्यक्ति आजीवन इस बैंक का खाताधारक बन जाता है.' मंदिर के पुजारी आचार्य संतोष शास्त्री की मानें, तो अब तक राम के नाम पर इस बैंक में 6 करोड़ से भी अधिक पैसे जमा हो चुके हैं.

Representative Feature Image Source: indianexpress

Source: naiduniya