बॉलीवुड में बहुत सी फ़िल्में सच्ची घटनाओं, कहानियों पर बनी हैं. इन फ़िल्म्स को लोग देखना तो पसंद करते ही हैं, साथ ही वो उस घटना को और करीब से समझने की भी कोशिश करते हैं. यही सोच बॉलीवुड स्टार्स की भी होती है, वो भी इस तरह की फ़िल्मों में काम करने के लिए हमेशा तैयार रहते हैं, और काहानी और उसके किरदार में जान फूंकने के लिए वो उस शख्स की ज़िन्दगी को अच्छे से समझने की कोशिश करते हैं. ऐसी कई फ़िल्में बनी हैं, जिनमें काम करने के लिए स्टार्स ने उसी माहौल में समय बिताया है, ताकि वो किरदार में खुद को ढाल पायें. ऐसी ही फ़िल्मों में काम करने के बारे में सोच रहे हैं बी-टाउन के खिलाड़ी कुमार अक्षय कमार. खिलाड़ी भईया अब केवल रियल कैरेक्टर और कहानियों पर आधारित फ़िल्मों में ही काम करना चाहते हैं.

Source: indiatimes

2016 में 'रुस्तम' और 'एयरलिफ्ट' जैसी रियल स्टोरी पर आधारित फ़िल्मों में लीड रोल निभाने वाले अक्षय कुमार अब इंडिया की पहली कोयले की खदान में हुई एक घटना पर आधरित फ़िल्म में नज़र आयेंगे.

Representational Image: thebetterindia

ये फ़िल्म 1989 के रानीगंज कोयला खदान के बचाव कार्य पर आधारित होगी.

Representational Image: thebetterindia

इस घटना में एडिशनल चीफ़ माइनिंग इंजीनियर जसवंत सिंह गिल ने अपनी जान पर खेलकर 64 लोगों की जान बचाई थी, जो ब्लास्ट की वजह से खदान में फंसे हुए थे.

Source: twimg

आने वाले साल में अक्षय कुमार की 'टॉयलेट- एक प्रेम कथा', 'पैडमैन', 'गोल्ड' और 'मुगल' जैसी कई बड़ी फ़िल्में रिलीज़ होने वाली हैं, जिनका उनके फ़ैन्स को बेसब्री से इंतज़ार है.

Source: thebetterindia