इंसानियत का मुखौटा लिए ना जाने कितने ही दरिंदों ने महिलाओं और बच्चियों को अपना शिकार बनाया है. सिर्फ़ पिछले कुछ सालों की बात करें, तो महिलाओं के साथ रेप और छेड़छाड़ के ऐसे कई मामले सामने आये, जिन्होंने पूरे देश को हिला कर दिया था. हालांकि निर्भया कांड के बाद सरकार ने कानून को सख़्त कर अपराधियों पर लगाम लगाने की एक कोशिश की है, पर आज भी बिता कल भुलाये नहीं भुलाया जाता.

आज हम आपको महिलाओं पर कुछ ऐसे ही अपराधों के बारे में बता रहे हैं, जिसने महिलाओं की अस्मिता को कुचलने के साथ ही इंसानियत को शर्मसार किया.

1. भंवरी देवी (राजस्थान)

Source: Pinkcity post

1992 में राज्य में बाल विवाह के ख़िलाफ़ आवाज़ उठा रही भंवरी देवी की आवाज़ को दबाने के लिए दरिंदों ने उनके साथ रेप किया. भंवरी देवी समाज के उस तबके से आती थी, जिसे समाज नीची जाति की नज़रों से देखता है. इसका फ़ायदा ऊंची जाति के लोगों ने उठाया और सबूतों के अभावों में उन्होंने भंवरी देवी को कोर्ट में झूठा साबित कर दिया.

2. शक्ति मिल रेप केस 2013 (मुंबई)

Source: Mid-day

दिल्ली में निर्भया रेप केस के कुछ महीने ही बीते थे कि मुंबई की शक्ति मिल में एक और दिल दहला देने वाली ख़बर सामने आई. यहां पांच लोगों ने मिल कर एक महिला फ़ोटो जर्नलिस्ट के साथ रेप किया. इन लोगों में से एक नाबालिग भी शामिल था. इस केस ने एक बार फिर देश को हिला कर रख दिया था. 2014 में तीन दोषियों को कोर्ट ने मौत की सज़ा सुनाई, जबकि एक को उम्रकैद की सज़ा दी गयी.

3. केरल लॉ की स्टूडेंट के साथ रेप

Source: Ndtv

54 साल के अधेड़ ने एक छात्रा के साथ उस समय रेप किया, जब वह 12वीं क्लास में थी. यह आदमी अकसर घर में आता-जाता रहता था और पूजा के बहाने लड़की के साथ छेड़छाड़ करता था. इस आदमी की हरकत से तंग आ कर छात्रा ने जो किया वो काफ़ी बहादुरी का काम था. 23 वर्षीय महिला ने इस धर्मगुरु का लिंग काट दिया.

4.14 साल की दलित लड़की के साथ डबल रेप

Source: Indiablogs

NCRB 2014 की रिपोर्ट के अनुसार, हर दिन चार से ज़्यादा दलित महिलाओं के साथ रेप की घटनायें सामने आती है. मई 2016 में दिल्ली में एक दलित लड़की को अगवा कर उसके साथ एक बार नहीं, बल्कि दो-दो बार रेप किया. इस घटना में लड़की की मौत हो गई थी.

5. गुरुग्राम महिला के साथ बलात्कार की घटना

Source: Indiatimes

29 मई 2017 को ऑटो से जा रही एक महिला के साथ ड्राइवर और उसके कुछ साथियों ने कथित बलात्कार किया. उनकी दरिंदगी का अंदाज़ा इसी बात से लगाया जा सकता है कि उन्होंने 9 महीने की बच्ची की गला घोंट कर हत्या करने के बाद ऑटो से बाहर फेंक दिया. महिला ने 3 जून को पुलिस स्टेशन में इस घटनाक्रम के बारे में बताया, तो पुलिस हरकत में आई और मामले को संज्ञान में लिया है.

6. 2012 में ललिता पर एसिड अटैक

Source: Women now

यह केस भी काफी चौंकाने वाला था. दरअसल हुआ कुछ ऐसा था कि ललिता के Cousin की निजी खुन्नस के चलते ललिता पर एसिड फेंक दिया गया. इस घटना में ललिता का पूरा चेहरा जल गया. 17 सर्जरी से गुज़रने के बावजूद ललिता पूरी तरह से सही नहीं हो पाई.

7. प्रीति राठी एसिड अटैक केस (2013)

Source: Zeenews

प्रीति ने शायद कभी सोचा भी नही होगा कि शादी का प्रस्ताव ठुकराने पर उसका अंजाम कुछ इस तरह का होगा. शादी से मना करने पर दिल्ली के रहने वाले पंवार ने 2013 की 2 मई को राठी पर उस समय हमला किया, जब वो जॉब के लिए मुंबई गई हुई थी. हालांकि इस केस में राठी को न्याय मिला और पंवार को सुप्रीम कोर्ट ने 2016 में मौत की सज़ा सुनाई.

कहा जाता है कि हम उस देश के वासी है, जहां महिलाओं की इज्ज़त और उनका सम्मान होता है, लेकिन जो आज कल हो रहा है वो इसके परे है. अकसर हम कानून व्यवस्था और सरकार की नीतियों पर उंगली उठाते है, लेकिन खुद की सोच बदलने की नहीं सोचते. आख़िर कब तक महिलायें इस तरह के उत्पीड़नों को झेलती रहेंगी और कब तक हम सरकार और प्रशासन को दोषी ठहरायेंगे.