ख़ूबसूरती को देखने का सबका अपना-अपना नज़रिया होता है, किसी को बाहरी सुंदरता पसंद आती है, तो किसी को अंदरूनी ख़ूबसूरती भाति है. किसी को बॉलीवुड अभिनेत्रियां सुन्दर लगती हैं, तो वहीं कई लोगों के लिए ये सिर्फ़ दिखावटी है. ख़ैर, ये तो अपनी-अपनी पसंद की बात है, पर आज हम आपको ऐसी शख़्सियत के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनकी ख़ूबसूरती पर कोई सवाल नहीं कर सकता, न ही कोई उनकी सुंदरता में कोई कमी निकाल सकता है. वो एक महारानी थीं. देखा जाए तो देश में कई ख़ूबसूरत रानियां हुई हैं, लेकिन जिनकी सुंदरता को कोई भुला नहीं सकता, वो थीं जयपुर की महारानी गायत्री देवी. जी हां, अगर गायत्री देवी को इतिहास की सबसे ख़ूबसूरत महिला का ख़िताब भी दिया जाए, तो इसमें कोई अतिश्योक्ति नहीं होगी.

इसलिए आज हम आपके लिए महारानी गायत्री देवी की कुछ अनदेखी तस्वीरों के साथ उनकी ज़िन्दगी से जुड़ी कई बातें लेकर आये है.

1. यूं तो देश में बहुत सी रानियां रहीं, पर गायत्री देवी से सुन्दर कोई नहीं.

2. गायत्री देवी का जन्म 23 मई 1919 को लंदन में हुआ था.

3. गायत्री देवी के पिता कूच बिहार के राजा थे और उनकी मां इंद्रा राजे बरोड़ा की मराठा राजकुमारी थीं.

4. गायत्री देवी एक ऐसी रानी थीं जिनका जन्म भी और विवाह भी राजसी परिवार में ही हुआ था.

5. गायत्री देवी के दोस्त और परिवार वाले उनको आयशा नाम से बुलाते थे.

6. गायत्री देवी की ख़ूबसूरती पर कोई भी संदेह नहीं कर सकता.

7. गायत्री देवी को इतिहास की सबसे ख़ूबसूरत महिला का ख़िताब दिया जाये, तो कोई अतिश्योक्ति नहीं होगी.

8. महारानी गायत्री देवी के व्यक्तित्व पर राजघराने की परवरिश की झलक साफ़ दिखती है.

9. नजाकत और रॉयलटी का अनूठा संगम.

10. महारानी गायत्री देवी से ज़्यादा नज़ाकत और रॉयलटी शाही घराने से ताल्लुक रखने वाली किसी और रानी में नहीं देखी गई.

11. परियों की दुनिया जैसा था गायत्री देवी का जीवन.

12. उनको शिकार का भी शौक़ था और उन्होंने 12 साल की उम्र में पहली बार चीते का शिकार किया था.

13. 1975 में एमरजेंसी के दौरान उनको गिरफ़्तार करके तिहाड़ जेल में भी भेजा गया था.

14. वो महाराज सयाजीराव गायकवाड़ तृतीय की इकलौती संतान थीं.

15. बेहद सुन्दर और मनोहारी फ़ोटो.

16. वो चुनाव में 2,46,516 में से 1,92,90 9 वोटों से लोकसभा सीट जीतने वाली पहली महिला थीं.

17. उन्होंने अपने जीवन साथी का चुनाव ख़ुद किया और उन्होंने सभी मानदंडों को पीछे छोड़ते हुए अपनी उम्र से दोगुने उम्र के व्यक्ति से विवाह किया.

18. गायत्री देवी ने ही पहली मर्सिडीज बेंज W126 और 500 SEL भारत मंगवाई थी, जिसे बाद में मलेशिया भेज दिया गया था.

19. उन्होंने लड़कियों के लिए एक स्कूल खोला, जो आज देश के बेहतरीन स्कूल्स में से एक है.

20. उनको कारों का बहुत शौक़ था.

21. वो चाहे साड़ी पहने या खाकी पैंट उनके कर सब कुछ जंचता था.

22. उनके पास बहुत सी रोल्स रॉयस और एक एयर क्राफ़्ट भी था.

23. वो राजा मानसिंह की पत्नी थीं और जयपुर की तीसरी महारानी थीं.

24. वो विद्रोही, अपना पक्ष रखने वाली और मज़बूत महिला थीं.

25. 1940 में शादी के समय गायत्री देवी की उम्र 21 साल थी.

26. गायत्री देवी ने लंदन और शांतिनिकेतन के विश्व भारती यूनिवर्सिटी से पढ़ाई की थी.

27. अपनी दोस्त के साथ खड़ी गायत्री देवी.

38. राजा मान सिंह पोलो ग्राउंड में उन्हें पहली बार देखते ही उनसे प्यार कर बैठे थे.

29. हाथ में ट्रॉफी लिए हुए महारानी गायत्री देवी.

30. बेपनाह ख़ूबसूरती की मिसाल थीं गायत्री देवी.

31. पोलो टीम के साथ महारानी गायत्री देवी.

32. उन्होंने उस समय में समाज के ख़िलाफ़ जा कर लव मैरिज की थी.

33. 29 जून 1970 को 57 साल की उम्र में राजा मान सिंह का यहां हो गया था, तब से ही गायत्री देवी काफ़ी दुखी रहने लगी थीं.

34. 1967 में वो अपने निर्वाचन क्षेत्र एक दोबारा चुनाव जीती थीं.

35. एक सांसद, राजनेत्री और महारानी होने के अलावा गायत्री देवी एक समाज सेविका भी थीं.

36. 1997 में लंदन में उनके बेटे की मौत के बाद गायत्री देवी बहुत अकेली हो गई थीं.

37. फ़ेमस मैगज़ीन वोग ने गायत्री देवी को दुनिया की सबसे ख़ूबसूरत 10 महिलाओं की लिस्ट में शामिल किया था.

38. गायत्री देवी पोलो की बेहद उम्दा प्लेयर थीं.

39. साल 1949 में ही उन्हें जयपुर की राजमाता का दर्जा भी प्राप्त हुआ.

40. 29 जुलाई, 2009 को 90 साल की उम्र में किडनी खराब होने की वजह से गायत्री देवी का देहांत हो गया.

xfghghgj