ज़िंदगी में कोई न कोई काम, किसी न किसी के लिये नया होता है. कई बार कुछ अलग करने में ख़ुशी भी होती है, तो कभी-कभी कुछ ग़लत होने का डर भी रहता है. कुछ ऐसी ही मिली-जुली फ़ीलिंग्स पहली बार हवाई यात्रा करने वालों के मन में भी आती है. वैसे अगर आप भी पहली बार हवाई अड्डे की ओर रुख़ करने जा रहे हैं, तो घबराने वाली कोई बात नहीं है. बस जाने से पहले ये चंद काम की बातें याद रखना:

1. पहली हवाई यात्रा हर किसी के लिये नया अनुभव होता है. इसलिये एयरपोर्ट के नियम-क़ानून समझने के लिये फ़्लाइट के समय से करीब ढाई घंटा पहले पहुंचने की कोशिश करें, ताकि बाद में किसी तरह की दिक्कत का सामना न करना पड़े.

Source : dexteracademy

2. फ़्लाइट टिकट की सॉफ़्ट कॉपी के साथ-साथ हार्ड कॉपी भी होनी चाहिए. सेफ़ साइड के लिये मोबाइल में भी टिकट की सारी जानकारी मौजूद रखें.

Source : ytimg

3. यात्रा पर निकलने से पहले पहचान पत्र रखना न भूलें. अंतर्देशीय सफ़र के लिये आधार कार्ड, तो वहीं अंतर्राष्ट्रीय यात्रा के लिये पासपोर्ट ज़रूरी है.

Source : aajtak

4. एयरपोर्ट पर चेक-इन से पहले गेट पर ही आधार कार्ड, वोटर आईडी कार्ड और पासपोर्ट की जांच की जाती है. इसके बाद ही आपको एयरपोर्ट के अंदर भेजा जाता है.

Source : multco

5. ये प्रक्रिया पूरी होने के बाद अंदर जाते ही आपको एयरलाइन की लगेज स्क्रीनिंग बेल्ट के पास जाकर सामान स्कैन कराना होगा. सामान स्कैन होने के बाद एयरलाइन्स वाले इसे लॉक कर देते हैं, जिसे यात्रा पूरी होने के बाद ही खोला जा सकता है. अगर आपके किसी भी बैग का वज़न 15 किलो से अधिक है, तो उसके लिये आपको अधिक फ़ीस अदा करनी होती है.

Source : wikimedia

6. यात्रा करते वक़्त अपने हैंडबैग में रेज़र, ब्लेड और चाकू जैसा सामान न रखें, क्योंकि सिक्योरिटी चेकिंग के दौरान ये चीज़ें निकाल दी जाती हैं.

Source : hial

7. लगेज स्कैन होने के बाद एयरलाइन्स वाले काउंटर पर बोर्डिंग पास लेना होगा. ई-टिकेट और पहचान पत्र देखने के बाद आपको बोर्डिंग पास दे दिया जाएगा. इसके साथ लगेज का वज़न नाप कर उसे फ़्लाइट में रखने के लिये भेज दिया जाएगा.

Source : bizj

8. बोर्डिंग पास के बाद आपको सुरक्षा जांच की प्रक्रिया से गुज़रना होता है. इस दौरान जैकेट, फ़ोन और लैपटॉप जैसी तमाम चीज़ें ट्रे में रख कर स्कैन की जाती हैं. इसके ही सुरक्षा नियमों को मद्देनज़र रखते हुए आपकी भी स्कैनिंग की जाती है. सारी चीज़ें सही पाये जाने के बाद आपको यात्रा के लिये आगे भेज दिया जाता है.

Source : Indiatv

9. फ़्लाइट की सारी जानकारी बोर्डिंग पास में दी होती है.

Source : newindianexpress

10. एयरलाइन बोर्डिंग की घोषणा करती है, जिसके बाद आप फ़्लाइट में जा कर बैठ सकते हैं.

Source : cloudfront

11. इस सारी प्रक्रिया में करीब 45 मिनट से लेकर 1 घंटे का समय लग जाता है. पहली यात्रा है, तो चीज़ों को समझने में थोड़ा ज़्यादा समय लगता है, इसलिये टाइम से पहले पहुंचें.

Source : ytimages

12. प्लेन से उतरते वक़्त जल्दबाज़ी न करें.

Source : dailymail

13. प्लेन में बैठते ही फ़ोन ऑफ़ कर दें और सेल्फ़ी न लें, वरना डांट पड़ सकती है.

आपकी यात्रा मंगलमय हो!

Feature Image Source : financialexpress