अपनी गाड़ी, बाइक, स्वास्थ्य, घर और अब तो फ़ोन के लिए भी हम ख़ुद अपनी जेब से पैसे दे कर बीमा करवाते हैं. लेकिन ये बहुत ही कम लोगों को पता है कि हर घर में पहुंचने वाले गैस सिलिंडर के साथ, बिना एक रुपये ख़र्च करे बीमा भी मिलता है.

अगर आप किसी अधिकृत डीलर से LPG सिलिंडर लेते हैं, तो स्वचालित रूप से आप लगभग 40 से 50 लाख रुपये तक के बीमा कवर के हक़दार हैं. सभी पंजीकृत गैस उपभोक्ताओं को उनके पंजीकृत पते पर LPG सिलेंडरों से होने वाली किसी भी दुर्घटना के रिस्क से सुरक्षित करा जाता है. ये बीमा पूरे परिवार के लिए होता है. Relakhs के अनुसार, LPG कंपनियां और विक्रेता, Third Party Liability Insurance लेते हैं. ग्राहकों से कोई भी प्रीमियम वसूला नहीं जाता है. ये बीमा पॉलिसी व्यक्तिगत दुर्घटना और संपत्ति के नुक़सान के साथ-साथ Medical Expenses भी कवर करती है.

क्योंकि आम तौर पर ज़्यादातर ग्राहक इस बात से बेख़बर होते हैं, वो किसी प्रकार के रिसाव या विस्फोट की रिपोर्ट नहीं करते. इन दुरघटनाओं में, ग़लती आपके सर पर थोप दी जाती है, जबकि इसके लिए विक्रेता और LPG कंपनियां ज़िम्मेदार होती हैं जो गैस भरते समय या बांटते हुए, सिलिंडर को सही तरीक़े से सील करने में लापरवाही बरतते हैं.

क्लेम कैसे करें ?

सबसे पहले दुर्घटना स्थानीय पुलिस स्टेशन में दर्ज की जानी चाहिए. आपको कुछ दिनों के भीतर ही गैस विक्रेता को लिखित रूप में भी सूचित करना होगा, जिसके बाद विक्रेता, कंपनी और बीमाकर्ता को सूचित करेगा. मृत्यु के मामले में, रिश्तेदारों को मुआवज़े के लिए अदालत में अपील करना पड़ता है. अदालत, पीड़ित की उम्र, वेतन और अन्य शर्तों के अनुसार राशि का निर्धारण करती है.

याद रखिये...

अक्सर बीमा कंपनियां क्लेम के समय कुछ न कुछ कमियां निकालने की कोशिश करती हैं, जिससे वो अपने पैसे बचा सकें. ऐसे में अगर आप कुछ चीज़ों का ख़्याल पहले से रखेंगे तो उनको ये मौक़ा नहीं मिल पायेगा. सुरक्षा के नज़रिये से भी ये बातें बहुत महत्वपूर्ण है.

- ISI प्रमाणित लाइटर, गैस पाइप और अन्य एक्सेसरीज़ का ही प्रयोग करें

- नियमित अंतरालों पर अपने गैस डीलर से रखरखाव की जांच ज़रूर कराएं.

- गैस पाइप अगर काफ़ी पुराना हो गया हो तो उसको बदल दें

हालांकि गैस कंपनियां ज़ोर-शोर से इस बीमा का प्रचार नहीं करती हैं, लेकिन कुछ कंपनियों ने अपनी वेबसाइट पर इसकी सारी जानकारी साझा की है.

- भारत गैस की पॉलिसी देखने के लिए यहां क्लिक करें

- इंडेन गैस की पॉलिसी देखने के लिए यहां क्लिक करें

सोशल मीडिया और स्मार्टफ़ोन्स से जुड़े रहने वाले शहरी ग्राहकों तक तो ये जानकारी किसी न किसी तरह पहुंच ही जाती है लेकिन ग्रामीण आबादी अपने इस हक़ से अनजान रह जाती है. हम सब जानते हैं कि गैस सिलिंडर से होने वाली दुर्घटना में न सिर्फ़ जान का बल्कि माल का भी भारी नुक़सान होता है. ऐसे में इस बीमा योजना से लाखों रुपये की मदद मुमकिन है, जो किसी ग़रीब परिवार को सहारा देने में बेहद लाभदायक है.

एक शिक्षित नागरिक की तरह आपको अपने अधिकारों की पूरी जानकारी होनी चाहिए. इस पोस्ट को शेयर करके ग़ज़बपोस्ट की इस कोशिश 'साड्डा हक़' में हमारा साथ दीजिये. यदि कोई ऐसा विषय हो, जिसके बारे में आप जानना चाहते हों, या आपको लगता हो कि बाक़ी लोग अनजान हैं और उनके लिए जानकारी लाभदायक होगी, तो हमें ज़रूर बताइये. हम उस मुद्दे को अपने आने वाले लेख में उठाने की कोशिश करेंगे.