आज, यानि 26 फरवरी को दिखेगा इस साल का पहला और अकेला सूर्यग्रहण. 'Ring Of Fire' नाम का ये ग्रहण, भारतीय समय के अनुसार, शाम 5 बजकर 40 मिनट पर शुरू होगा और रात 10 बजकर 1 मिनट तक चलेगा.

यह ग्रहण केवल विश्व के कुछ हिस्सों में ही देखने को मिलेगा. भारत में ये पूर्ण रूप से नहीं देखा जा सकेगा. यहां यह आशिंक रूप से दिखाई देगा. यह सूर्यग्रहण अमेरिका और साउथ अफ़्रीका में ज़्यादा साफ़ दिखेगा.

अमेरिका, दक्षिण अफ्रीका, प्रशांत महासागर, अटलांटिक, अंगोला ज़ाम्बिया, कांगो और अर्जेंटीना में देखा जा सकेगा. सूर्यग्रहण एक खगोलीय घटना है और 'Ring Of Fire' ग्रहण तभी होता है, जब चन्द्रमा, सूर्य और पृथ्वी के बीच से गुज़रता है. ये ग्रहण एक चमकती हुई रिंग की तरह दिखाई देता है. दो घंटे तक चलने वाले इस ग्रहण में ये रिंग, एक घंटे तक ही साफ़ दिखेगी.

ग्रहण के दौरान सूर्य से तेज़ अल्ट्रावॉयलेट किरणें निकलती हैं, जो एंज़ाइम सिस्टम को प्रभावित करती हैं, इसलिए सूर्यग्रहण के दौरान सावधानी बरतने की जरूरत होती है. सूर्य ग्रहण को कभी भी नंगी आंखों से नहीं देखना चाहिए. इसको देखने के लिए वैज्ञानिक प्रमाणित टेलिस्‍टकोप का ही इस्‍तेमाल करना चाहिए. सूर्य ग्रहण को देखने के लिए ऐसे चश्‍मे का भी इस्‍तेमाल किया जा सकता है, जिसमें अल्‍ट्रावॉयलेट किरणों को रोकने की क्षमता हो.

Source: Indiatimes