पूरी दुनिया में कला की कोई कमी नहीं है और हमारे भारत देश के तो कण-कण में कला बसी हुई है. तभी तो देश के कलाकार पोररी दुनिया में अपना नाम रौशन कर रहे हैं. ऐसे ही एक कलाकार हैं, सुदर्शन पटनायक. सुदर्शन रेत पर खूबसूरत कृतियां उकेरते हैं और इसके लिए उनको देश और विदेशों में कई बार पुरस्कृत भी किया जा चुका है. अपने हुनर से रेत पर बेहतरीन कृतियां बनाने वाले सुदर्शन पटनायक ने एक और उपलब्धि हासिल कर ली है.

10वीं मॉस्को सैंड आर्ट चैंपियनशिप में दुनिया भर में मशहूर ओडिशा के सैंड आर्टिस्ट सुदर्शन पटनायक ने गोल्ड मेडल जीत लिया है. ये मेडल उनको भगवान गणेश की अद्भुत प्रतिमा बनाने के लिए मिला है. समारोह के मुख्य आयोजक Pavel Menikovद्वारा समारोह में पटनायक को पुरस्कार प्रदान किया गया.

इस सैंड आर्ट प्रतियोगिता का आयोजन रूस के कोलोमेनस्कोय में 22 से 28 अप्रैल के बीच किया गया था, जिसमें पूरी दुनिया से 25 प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया था. भारत की तरफ से सुदर्शन ने इसमें प्रतिनिधित्व किया था. प्रतियोगिता में जीत हासिल करके सुदर्शन ने एक बार फिर से देश और देशवासियों को गौरवान्वित किया है.

गौरतलब है कि पिछले साल मॉस्को में विश्व शांति पर आयोजित प्रतियोगिता में सुदर्शन ने महात्मा गांधी की प्रतिमा बनाकर स्वर्ण पदक जीता था. अपनी कला की बदौलत सुदर्शन दुनियाभर में जाने जाते हैं. कुछ समय पहले वो ओडिशा के पुरी बीच पर दुनिया का सबसे लंबा रेत का किला बना कर अपना नाम गिनीज़ वर्ल्ड रिकॉर्ड में भी दर्ज करा चुके हैं.

Source: firstindianews

जन्माष्टमी के मौके पर भी उन्होंने भगवान कृष्ण की प्रतिमा बना कर अपने चाहने वालों को शुभकामनाएं दी थीं.

इतना ही नहीं सुदर्शन पहले ऐसे भारतीय रेतशिल्पकार हैं, जो विश्व चैम्पियनशिप समेत कई राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता में जीत हासिल कर चुके हैं. सुदर्शन पटनायक ने विभिन्न देशों में होने वाली प्रतियोगिताएं में भारत का प्रतिनिधित्व किया है. साथ वो 10 से भी ज़्यादा बार ‘पीपल्स च्वॉइस’ अवॉर्ड भी अपने नाम कर चुके हैं.

Source: indiatimes