#MeToo मूवमेंट ने बड़े-बड़े स्टार्स की पोल खोल कर रख दी है, जिसके तहत आलोक नाथ का नाम भी सामने आया है. 19 साल बाद डायरेक्टर विनता नंदा ने चुप्पी तोड़ते हुए, आलोक नाथ पर यौन हिंसा का आरोप लगाया. विनता नंदा के बाद जानी-मानी अभिनेत्री संध्या मृदुल ने भी एक्टर की पोल खोलते हुए कहा कि वो आलोक नाथ द्वारा शारीरिक हिंसा का शिकार हो चुकी हैं.

संध्या ने विनता नंदा का सपोर्ट करते हुए लिखा कि 'मेरे एक्टिंग करियर की शुरूआत में मैं टेलीफ़िल्म Kodaikanal की शूटिंग कर रही थी, जिसमें रीमा लागू मेरी मां और आलोक नाथ ऑनस्क्रीन पिता का रोल निभा रहे थे. टेलीफ़िल्म को लेकर मैं काफ़ी उत्साहित और ख़ुश थी. इसके अलावा आलोक नाथ से भी काफ़ी प्रभावित थी. वो मुझे भगवान का बच्चा कहते थे और हर दिन मेरी प्रशंसा भी करते थे. मैं बाबू जी की प्रशंसक थी और उनके साथ काम करके ख़ुद को भाग्यशाली समझ रही थी. उस वक़्त ऐसा लगता था जैसे मानों मैं चांद पर हूं.'

Source : News18

घटना का ज़िक्र करते हुए वो आगे बताती हैं कि एक रात हम शूट से जल्दी फ़्री हो गये, जिसके बाद शो की पूरी कास्ट बाहर डिनर करने के लिए निकल गई. डिनर के वक़्त आलोक नाथ ने काफ़ी शराब पी रखी थी और धीरे-धीरे वो अपने आपे से बाहर जाते जा रहे थे. मुझे सब कुछ पूरी तरह से तो याद नहीं है, लेकिन हां इतना पता है कि उनकी हरकतों की वजह से मैं ख़ुद को असहज़ महसूस कर रही थी, जिस कारण मैं बिना खाना खाये ही होटल वापस आ गई.

Source : Newindianexpress

इसके बाद कास्ट्यूम दादा ने मेरे रूम में आकर मुझे अगले दिन के शूट के लिए कपड़े दिये. दोबारा फिर गेट नॉक किया गया, मैंने सोचा कि फिर से कास्ट्यूम दादा आये होंगे. वहीं जब मैंने गेट पर आलोक नाथ को देखा था, तो मैं दरवाज़ा बंद करने लगी. लेकिन वो ज़बरन मेरे रूम में घुस आये. मैं चीख रही थी, चिल्ला रही थी, पर वो मुझे छोड़ने के लिए तैयार नहीं थे. सैभाग्य से मेरे DoP वहां मौजूद थे, जिन्होंने रिसेप्शन पर कॉल की और किसी तरह हम उन्हें रूम से बाहर निकालने में कामयाब रहे.

Source : Indianexpress

मैं बुरी तरह डरी हुई थी और मेरा शरीर कांप रहा था. हालत ये थी कि मेरे रूम में सोने के लिए हेयरड्रेसर को भेजा गया. इसके बाद मेरा उनके साथ एक सीन था, जिसमें मुझे बाबू जी की गोद में सिर रख कर रोना था, जब मैं इस बारे में सोचती हूं तो मुझे उल्टी आती है. कुछ दिन बाद मैं बीमार पड़ गई और शूट नहीं कर पाई. मैं आलोक नाथ की बेटी की तरह थी, लेकिन उन्होंने जो किया वो काफ़ी दर्दनाक था. बाद में उन्होंने अपने बर्ताव के लिए मुझसे मांफ़ी मांगी.

Source : amazonaws

लेकिन मुंबई वापस लौटने के बाद आलोक नाथ ने लोगों से ये तक कहा कि मैं अंहकारी हूं. वो एक पॉपुलर इंसान थे और मैं इंडस्ट्री में नई. संध्या लिखती हैं कि आलोक नाथ को मैंने उनके लिए नहीं बल्कि, ख़ुद के लिए माफ़ कर दिया. इसके साथ ही मैं रीमा लागू की भी शुक्रगुज़ार हूं, जिन्होंने मां की तरह मेरी रक्षा की. पर उन्होंने विनता के साथ जो किया उसके लिए मैं उन्हें कभी माफ़ नहीं करूंगी.