शहबाज़ नदीम, जिन्होंने लगातार दो रणजी ट्रॉफ़ी सीज़न में 50 से ज़्यादा विकेट लेकर भारतीय टीम के दरवाज़े पर दस्तक देनी शुरू की है. झारखंड के इस बाएं हाथ के स्पिनर ने अपने दम पर टीम को पहली बार रणज़ी के सेमीफ़ाइनल तक पहुंचाया. वहीं एक और झारखंड के बाएं हाथ के गेंदबाज़ ने भारतीय सलेक्टर्स को अपनी तरफ़ देखने पर मजबूर कर दिया है.

सरफ़राज़ अशरफ़ बिहार के मुज़फ़्फरपुर के रहने वाले हैं, और झारखंड की तरफ़ से खेलते हैं. कर्नाटक प्रीमियर लीग में उनका चयन Young Pioneer CC टीम के लिए हुआ. जिसमें उनका मुकाबला था Mercara Youth Cricket Club से.

Source: sakshi

अपनी धारदार गेंदबाज़ी से उन्होंने इस मैच में 6 विकेट बिना एक भी रन दिए लिए. जिसमें से एक Hatrick शामिल है. साथ ही उन्होंने लगातार 5 गेंदों पर 5 विकेट लेने का भी रिकॉर्ड अपने नाम किया.

Source: crictracker

सरफ़राज़ ने बल्लेबाज़ी में भी जौहर दिखाया और उनके बल्ले से 40 रन निकले. 27 साल के इस खिलाड़ी ने IPL और भारतीय टीम में अपनी जगह बनाने के लिए दावा पेश किया है. अब देखना होगा कि IPL की कौन सी टीम इन्हें अपने खेमे में करना चाहेगी, साथ ही करीब 2 साल से झारखंड रणजी टीम से बाहर चल रहे सरफ़राज को एक बार फिर अपनी राज्य टीम में जगह मिल सकती है और भारतीय टीम का हिस्सा बनने का उनका सपना एक सीढ़ी और ऊपर चढ़ सकता है.