कभी-कभी हम कोई काम दूसरों की बातों में आकर कर लेते हैं. हमें पता नहीं होता कि भविष्य में उसका क्या खामियाज़ा भुगतना पड़ सकता है. ऐसा ही कुछ हुआ था 1996 में 13 साल की बच्ची सुल्ताना के साथ. सुल्ताना की शादी सऊदी के एक बड़े ट्रेडर से हुई थी, लेकिन कुछ ही दिनों में उसके पति की मौत हो गई, तो उसके पति के भाई ने उससे शादी की इच्छा ज़ाहिर कर दी. अपनी ज़िंदगी से परेशान सुल्ताना ने उसे तुरंत इंकार कर दिया, पर सुल्ताना की बहन ने उसे बहला कर कहा कि 'शादी करना भविष्य के लिए अच्छा रहेगा, क्योंकि इसकी मौत के बाद सारी दौलत सुल्ताना की ही हो जाएगी'. बहन की बातों में आकर सुल्ताना ने उस आदमी से शादी कर ली.

Representative Image

इसी साल सुल्ताना ने अल अब्दुल्लाह से शादी कर ली, पर उसने शादी का कोई ऑफिशियल डॉक्यूमेंट नहीं दिया. वो सुल्ताना के साथ 20 दिनों तक रहा, फिर सऊदी लौट आया. सुल्ताना शादी के बिना किसी सबूत के अपने माता-पिता के साथ हैदराबाद में रहने लगी. अब तक उसका पति बस तीन बार ही उससे मिलने आया और इस दौरान सुल्ताना की एक बेटी और दो बेटे भी हो गए थे. आख़िरकार परेशान होकर 2015 में सुल्ताना परिवार के साथ रियाध पहुंच गई. जब अल अब्दुल्लाह को इस बात की ख़बर हुई, तो उसने सुल्ताना और उसके बच्चों को एक कमरे में बिना खाना और पानी दिए बंद कर दिया.

वो तीन दिन में एक बार आता था और मेरे बच्चों को दूसरे कमरे में लॉक कर देता था, फिर आकर मेरे साथ सेक्स करता था और चला जाता था. अगर मैं उसको ऐसा करने से रोकती थी, तो मुझे मारता-पीटता था और गालियां देता था. मैं उसे छोड़ देने के लिए मिन्नतें करती रहती थी, पर वो बड़ा क्रूर था. - सुल्ताना

इतना ही नहीं, इस दौरान वो 20 से 60 साल की उम्र के कई लड़के और लड़कियों से मिली. आपको जानकर बहुत हैरानी होगी कि ये सारे लोग अल अब्दुल्लाह के ही बच्चे थे, जो उसकी पहली पत्नियों से जन्में थे. बात-चीत के दौरान उसे पता चला कि वो अल अब्दुल्लाह की 31वीं पत्नी है.

इसके बाद वो बहुत बीमार पड़ गई, तो उसके पति ने उसे वापस जाने के लिए कह दिया. उसने उसकी बेटी को वहीं रख लिया और उसके बेटों को साथ में भेज दिया. सुल्ताना का पति जो अब 90 साल का हो चुका है, उसकी बेटी को उससे फ़ोन पर बात भी नहीं करने देता. उसने बच्ची को एक कमरे में बंद कर रखा है. किसी अनहोनी की आशंका से भयभीत होकर सुल्ताना ने विदेश मंत्रालय से मदद की गुहार भी लगाई है, पर अब तक केस में कोई प्रोग्रेस नहीं हुई है. वीज़ा एक्सपायर होने की वजह से वो उससे मिलने नहीं जा सकती, इसलिए वो हर वक़्त अपनी बेटी की सलामती की दुआ मांगती रहती है.

वाकई दुनिया में हवस, लालच और धोखे के बोझ तले इंसानियत कहीं दब सी गई है.

Source: BeingIndian