शेन वॉर्न एक ऐसा गेंदबाज़ जिसकी फ़िरकी के आगे दुनिया का हर ख़तरनाक बल्लेबाज़ घुटने टेक दिया करता था. वॉर्न आज भी दुनिया के सबसे बेहतरीन गेंदबाज़ों में से एक हैं. उन्होंने साल 1994 में इंग्लैंड के धाकड़ बल्लेबाज़ माइक गेटिंग को अपनी एक चमत्कारिक गेंद से आउट कर क्रिकेट की दुनिया में तहलका मचा दिया था. इस गेंद को 'बॉल ऑफ़ द सेंचुरी' के नाम से भी जाना जाता है.

Source: kalerkantho

वॉर्न ने अपने 16 साल के क्रिकेटिंग करियर में दुनिया के हर ख़तरनाक बल्लेबाज़ को आउट किया. वनडे के मुक़ाबले वॉर्न टेस्ट मैचों में ज़्यादा ख़तरनाक गेंदबाज़ हुआ करते थे. वॉर्न अपने हर स्पेल से मैच का पासा पलट देते थे. वॉर्न को क्रिकेट छोड़े हुए 10 साल से ज़्यादा हो गए हैं, लेकिन आज भी वर्ल्ड क्रिकेट को वॉर्न जैसा लेग स्पिनर नहीं मिल पाया है. वॉर्न तीन बार लगातार वर्ल्ड कप जीतने वाली ऑस्ट्रेलियाई टीम का हिस्सा भी रहे थे.

1- माइक गेटिंग

4 जून 1993 मैनचेस्टर टेस्ट के दौरान ऑस्ट्रेलियाई लेग स्पिनर शेन वॉर्न ने इंग्लैंड के ख़िलाफ़ 'बॉल ऑफ़ द सेंचुरी' फेंकी थी. इस चमत्कारिक बॉल पर आउट होने वाले खिलाड़ी थे माइक गेटिंग. गेटिंग जिस वक़्त 4 रन बनाकर क्रीज़ पर थे, उस वक़्त वॉर्न की एक गेंद लेग स्टम्प से काफ़ी बाहर जाती हुई दिख रही थी. मगर गेंद ज़बरदस्त टर्न लेती हुई तेज़ी से गैटिंग को चकमा देते हुए उनके ऑफ़ स्टंप पर जा लगी, जिसे देखकर सभी हैरान हो गए.

2- एंड्रयू स्ट्रॉस

साल 2005 नेटवेस्ट सीरीज़ के दौरान एजबेस्टन में शेन वॉर्न ने जब इंग्लैंड के ओपनर एंड्रयू स्ट्रॉस को ऑफ़ स्टम्प से बाहर जाती गेंद पर क्लीन बोल्ड किया था. वॉर्न की इस गेंद को 'बॉल ऑफ़ द सेंचुरी'- 2 भी कहा जाता है.

3- कुमार संगकारा

शेन वॉर्न ने श्रीलंका के स्टार बल्लेबाज़ कुमार संगकारा को आउट कर अपना 526 विकेट हासिल किया. वॉर्न की इस ऑफ़ स्टम्प पर जाती गेंद को संगकारा स्टेप आउट करके खेलना चाह रहे थे, लेकिन संगकारा इसे मिस कर बैठे और गेंद स्टम्प की गिल्लियां बिखेरती हुई निकल गयी.

4- ग्राहम गूंच

इंग्लैंड के धाकड़ बल्लेबाज़ ग्राहम गूंच भी एक टेस्ट मैच के दौरान शेन वॉर्न की एक शानदार लेग स्पिन गेंद पर क्लीन बोल्ड हो गए थे. दाएं हाथ के बल्लेबाज़ गूंच वॉर्न की लेग स्टंप से काफ़ी बाहर जाती इस गेंद को छोड़ना चाह रहे थे, लेकिन गेंद उनको छकाती हुई उनके लेग स्टंप ले उड़ी.

5- माइकल अथर्टन

शेन वॉर्न के सबसे बड़े शिकार हुआ करते थे इंग्लैंड के पूर्व कप्तान माइकल अथर्टन. वॉर्न भी अपना बनी मानते थे क्योंकि जब भी अथर्टन बल्लेबाज़ी करने आते ऑस्ट्रेलियाई कप्तान वॉर्न को गेंदबाज़ी के लिए ले आते थे. वॉर्न ने 10 बार अथर्टन को कुछ इस तरह से आउट किया था.

6 शिव नारायण चंद्रपॉल

ऑस्ट्रेलिया में खेले गए एक टेस्ट मैच के दौरान वेस्ट इंडीज़ के धाकड़ बल्लेबाज़ चंद्रपॉल भी वॉर्न की फ़िरकी के आगे बेबस नज़र आये थे. चंद्रपॉल शतक की और बढ़ रहे थे, लेकिन वॉर्न ने उनके सपनों पर पानी फेर दिया.

7- डारेन पावेल

साल 2005 में ऑस्ट्रेलिया और वेस्टइंडीज़ के बीच खेले गए एक टेस्ट मैच के दौरान शेन वॉर्न ने वेस्ट इंडीज़ के बल्लेबाज़ डारेन पावेल को लेग स्टम्प से बाहर जाती एक शानदार गेंद पर क्लीन बोल्ड कर दिया था.

शेन वॉर्न ने अपने अंतर्राष्ट्रीय करियर में कुल 1001 विकेट्स झटके थे. टेस्ट में मुरलीधरन के बाद वॉर्न सबसे ज़्यादा 708 विकेट लेने वाले गेंदबाज़ हैं.