माइक्रो ब्लॉगिंग साइट Twitter का नया दौर शुरू हो चुका है. दरअसल, Twitter का Logo बदला जा चुका है. जी हां आप सही सुन रहे हैं. ट्विटर के मालिक Elon Musk ने इस ब्रांड का नाम X कर दिया है. Elon Musk ने जब से Twitter को ख़रीदा है वो लगातार इसकी पहचान बदलते जा रहे हैं. पहले ट्विटर ब्लू वेरिफिकेशन में बदलाव किए और अब इसका नाम ही बदल दिया है. इससे पहले उन्होंने इसके Logo को बदलकर DOGE कर दिया था. कुल मिलकर Twitter अब X हो चुका है.

अगर आप गूगल पर X.com ओपन करते हैं तो आप सीधे Twitter पर पहुंच जाएंगे. अब आपको चिड़िया की जगह X दिखेगा. अब आप Tweet नहीं शायद Xweet करेंगे. Twitter के मालिक Elon Musk ने Twitter ब्रांड को ख़त्म करने की तैयारी पूरी कर ली है. मतलब अब Twitter के Logo और नाम के साथ इसका नया URL (X.com) भी आ गया है.

क्या ख़ासियत है X की

X.com पर ना सिर्फ़ Twitter बल्कि Elon Musk अपनी दूसरी कंपनियों को भी रीडायरेक्ट कर सकते हैं. Tesla, SpaceX, Neuralink, The Boring Company से लेकर Starlink जैसे अपने दूसरे प्रोजक्ट को भी X.com डोमेन पर शिफ्ट कर सकते हैं. मतलब ये कि X.com ओपन करने पर Elon Musk की तमाम कंपनियों का इंटरफेस खुल सकता है. हालांकि ये अभी साफ नहीं है.

economictimes

अब आपके मन में सवाल उठ रहे होंगे कि Twitter के मालिक Elon Musk इस बने बनाये ब्रांड को क्यों ख़त्म करना चाह रहे हैं? आख़िर नाम बदलने से क्या बदल जाएगा? वगैरह.. वगैरह..

दरअसल, X लाने के पीछे Elon Musk का एक बड़ा प्लान इस प्लैटफ़ॉर्म से उन्हें ज़्यादा से ज़्यादा रेवेन्यू जेनेरेट करना है. Twitter खरीदने के समय ही मस्क ने अपना प्लान क्लियर कर दिया था. उन्होंने कहा था कि Twitter को ख़रीदना X की शुरुआत के लिए एक बड़ा कदम साबित होगा.

Elon Musk चीनी ऐप We Chat की तरह Twitter को भी सुपर ऐप कॉनसेप्ट बनाने जा रहे हैं, जिसके ज़रिए अलग-अलग सर्विस जैसे सोशल मीडिया, पेमेंट सर्विस, टिकट बुकिंग सर्विस, गेमिंग सर्विस और दूसरी यूटिलिटी बेस्ड सर्विस दी जाएंगी.

aljazeera

Twitter यूज़र्स में दिखी नाराज़गी

Twitter में लगातार किये जा रहे ये बदलाव लोगों को रास नहीं आ रहे हैं. सोशल मीडिया पर इस बदलाव को लेकर लोग Elon Musk की आलोचना कर रहे हैं. लोगों का कहना है कि ये काफ़ी कन्फ्यूजिंग है और इससे यूज़र्स इस प्लैटफ़ॉर्म से किनारा कर लेंगे.