सोमालियन आर्टिस्ट है Muawiye Hussein Sidow,जिन्हें 'Shik Shik' नाम से भी जाना जाता है. यही वो शख़्स है, जिसने मोगाडिशु बाज़ार के दुकानों की रूप-रेखा बदल कर रख दी. वहां सौ दुकानों पर उनके कलाकारी के नमूने देखने को मिल सकते हैं.

इसे देख कर अंदाज़ा लगाया जा सकता है कि ये एक इलेक्ट्रॉनिक शॉप है.

दुकान के सामने खड़े इंसान का नाम ही Shik Shik है.

स्टेडियम के दीवार पर फुटबॉल खिलाड़ी की तस्वीर बनी हुई है.

ऑटो पार्ट्स विक्रेता की दुकान पर बनी ये चित्र उसकी खूबसूरती में चार-चांद लगा रही है.

सोमालियन डेंटिस्ट हसन अली की दीवारें उनके पेशे की कहानी बयां कर रही हैं.

आप अंदाज़ा लगाईये ये किस चीज़ की दुकान है.

सोमालिया में भी ब्रिटिश एजुकेशन क्लास, क्या बात है!

ये एक इलेक्ट्रिक शॉप और कॉस्मेटिक शॉप की दीवार है.

बच्चों की जन्नत.

दीवारों पर ये चित्रकारी एक इलेक्ट्रानिक शॉप पर है.

जब सभी दीवारें ऐसे खूबसूरत रंगों में रंगी हुई दिखती होंगी, तब वहां के लोगों का मन मोह लेती होंगी.

Source:indiatimes