हज़ारों शब्दों के बराबर होती है, एक तस्वीर. यादों का झरोखा होती है एक तस्वीर या फिर यूं कहें कि सवालों से भरा अपने आप में ही एक Question Paper होती है एक तस्वीर.

समय-समय पर जो काम लंबे-लंबे ख़त और लेख ना कर पाए, वो तस्वीरों ने कर दिखाया है. युद्ध हो या प्राकृतिक आपदा, कैमरामैन अपना कैमरा लेकर हम तक हक़ीक़त पहुंचाने के लिए कई तरह के जोखिम उठाते हैं. हालांकि कई कालजयी तस्वीरों के कारण लेंसमैन्स/फ़ोटोग्राफ़र्स को दुनियावालों से कड़ी आलोचना का भी सामना करना पड़ा है.

कुछ तस्वीरें जिनको खींचने वालों को एक तरफ़ मिली और दूसरी तरफ़ हुई कड़ी आलोचना-

1) गुवाहाटी में 17 वर्षीय लड़की के साथ Molestation

Source- India Today

2012 की इस घटना ने पूरे देश को झकझोर दिया था. एक 17 साल की लड़की को लगभग 30 पुरुषों ने मिलकर Molest किया था. वहां से गुज़र रहे एक टीवी पत्रकार ने अपने साथियों को बुलाकर पूरे वीडियो को शूट किया, पर उसे बचाया नहीं. बाद में इस टीवी पत्रकार पर ये आरोप भी लगा कि उसी ने भीड़ को ये दुष्कर्म करने के लिए उकसाया था. इस घटना की पीड़िता की तस्वीर और वीडियो कई टीवी चैनेल्स ने बिना ब्लर किए दिखा दी थी.

2) बच्ची को खाने के लिए घात लगाए बैठा गिद्ध

Source- Cyd.ro

दक्षिण अफ़्रीकी फ़ोटोग्राफ़र Kevin Carter ने ये तस्वीर सन् 1993 में खिंची थी. इस तस्वीर के लिए 1994 में Kevin को Pulitzer Prize से नवाज़ा गया. इसी साल अवसादग्रसित होने के कारण उन्होंने Suicide कर लिया. इस तस्वीर को देखने के बाद बहुत से लोगों के मन में एक ही सवाल था, 'क्या वो बच्ची ज़िन्दा बची?' कुछ लोगों ने इस तस्वीर को देखकर Kevin को भी दूसरा गिद्ध घोषित कर दिया. Kevin का कहना था कि उन्होंने तस्वीर लेने के बाद गिद्ध को भगा दिया था, लेकिन उन्हें इस तस्वीर के कारण बहुत आलोचना झेलनी पड़ी.

3) भूख से मरता Polar Bear

Source- Instagram

फ़ोटोग्राफ़र Paul Nicklen और Sea Legacy Team के सदस्य Baffin Island में वीडियो शूट कर रहे थे. तभी वहां उन्हें भूख से तड़पता एक Polar Bear दिखा. Polar Bear, भूख के कारण पल-पल मर रहा था. ये दृश्य फ़िल्माने के लिए भी Paul की आलोचना की गई. लोगों का कहना था कि उन्होंने उस भालू को क्यों नहीं बचाया?

4) वो अफ़गानी लड़की

Source- Pinterest

National Geographic के लेंसमैन, Steve Mccurry ने ये तस्वीर खिंची थी. पाक़िस्तान के Camps में खिंची इस अफ़गानी लड़की की सवालिया नज़रों ने पूरी दुनिया में हड़कंप मचा दिया था.

पिछले साल McCurry की इस फ़ोटो को भी आरोपों का सामना करना पड़ा. कुछ Photograph Experts का कहना था कि ये तस्वीर बहुत हद तक Photoshop की गयी है.

ये सारी तस्वीरें उठाती हैं इंसानियत पर सवाल. लेकिन जिन फ़ोटोग्राफ़र्स पर इन्हें खींचने के लिए उठाया जा रहा है सवाल, उनकी जगह आप होते तो क्या करते?