बुलेट ट्रेन-सी रफ़्तार और अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस 'तेजस', अपनी ख़ूबियों की वजह से चारों ओर चर्चा का विषय बनी हुई है. इस ट्रेन की ख़ूबियां जानने के बाद, लोग इसमें सफ़र करने के लिए बेसब्री से इंतज़ार कर रहे हैं, लेकिन लगता है कुछ लोगों को ये सब रास नहीं आया और उन्होंने तेजस का अागाज़ होने से पहले ही तोड़-फोड़ कर तेज़स को बुरी तरह क्षतिग्रस्त कर दिया.

घटना एक दिन पहले की है. तेजस को मुबंई से गोवा की पहली यात्रा पर 22 मई आज निकलना था, लेकिन उससे पहले तेजस ट्रेन की खिड़कियां टूटी पाई गई हैं. बीते रविवार को न्यूज़ एजेंसी ANI के मुताबिक, तेजस ट्रेन दिल्ली पहुंची, तो उसकी खिड़कियों के शीशे टूटे हुए थे.

भारतीय रेलवे के लिए ये एक ऐतिहासिक दिन हो सकता था, लेकिन अफ़सोस होते-होते रह गया. रेल मंत्री सुरेश प्रभु एलईडी टीवी, वाई-फ़ाई, सीसीटीवी जैसी अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस इस ट्रेन को मुंबई के छत्रपति शिवाजी टर्मिनल से हरी झंडी दिखाने वाले थे.

Source : indiatimes