ख़ुशवंत सिंह ने ख़ूब कहा है,

अगर आप उर्दू सीखना चाहते हैं तो इश्क़ कर लीजिये,

और अगर इश्क़ करना चाहते हैं तो उर्दू सीख लीजिये.

उर्दू यानि कि मोहब्बत. हमारे लिए मोहब्बत का एक और पैमाना है फ़िल्में, हिन्दी फ़िल्में. बड़े पर्दे पर हीरो-हीरोईन की प्रेम कहानी से प्रेरणा लेते हुए देश में कई लोगों की आशिक़ी मुकम्मल हुई है. फ़िल्मों के स्तरों में उतार-चढ़ाव तो आता-जाता है, लेकिन बेकार फ़िल्मों के भी गाने, डायलॉग्स और शेर हमारे ज़हन में रहते हैं.

हिन्दी फ़िल्मों में भी फ़िल्म मेकर्स ने बड़े शानदार तरीके से शेरों का इस्तेमाल किया है. हम ढूंढ लाये हैं कुछ चुनींदा हिन्दी फ़िल्मों के कुछ शेर जो दिखाते हैं मोहब्बत, आशिक़ी और दर्द का आईना:

अगर आपके ज़हन में है कोई और शेर तो हमें कमेंट बॉक्स में बतायें. साथ ही सबसे पसंदीदा शेर कौन सा है ये भी बताना न भूलें.

Source- Scoop Whoop