साल 2000 का 'अंडर-19 वर्ल्ड कप' श्रीलंका में खेला गया था. मोहम्मद कैफ़ की कप्तानी में भारतीय टीम अंडर-19 वर्ल्ड चैंपियन बनी थी. इस टूर्नामेंट में शानदार प्रदर्शन के बाद कैफ़ को कुछ ही महीनों के बाद टीम इंडिया में जगह मिल गई थी.

Source: sportskeeda

मोहम्मद कैफ़ की कप्तानी में भारत ने फ़ाइनल मुक़ाबले में श्रीलंका को 6 विकेट से हराकर पहली बार 'अंडर-19 वर्ल्ड कप' जीता था. श्रीलंका के 178 रनों के जवाब में भारत ने 41वें ओवर में ही मैच जीत लिया था. युवराज सिंह इस टूर्नामेंट में 'मैंन ऑफ़ द सीरीज़' बने थे.

Source: indiatimes

हालांकि, कैफ़ की उस विश्व विजेता टीम के अन्य सदस्य कैफ़ और युवराज जितने भाग्यशाली नहीं थे. उस टीम के अधिकतर खिलाड़ी कई साल पहले ही क्रिकेट को ही अलविदा कह चुके हैं.

तो चलिए क्यों न आज कैफ़ की उस विश्व विजेता टीम के अन्य सदस्यों की ख़बर भी ले लेते हैं-

1- मोहम्मद कैफ़ (कप्तान)

मोहम्मद कैफ़ अब अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कह चुके हैं. वैसे तो कैफ़ ने भारत को कई मैच जिताए, लेकिन 'नेटवेस्ट सीरीज़' के फ़ाइनल में उन्होंने जिस तरह से आख़िर तक लड़कर भारत को मैच जिताया वो क़ाबिल-ए-तारीफ़ था. कैफ़ ने अपनी शानदार फ़ील्डिंग से भारतीय क्रिकेट को एक नई पहचान दी.

Source: cricbuzz

2- रीतिंदर सिंह सोढी (उपकप्तान)

रीतिंदर सिंह सोढी कैफ़ की इस टीम के मुख़्य ऑल राउंडर थे. सोढ़ी भारतीय सीनियर टीम में खेल चुके हैं, लेकिन ज़्यादा सफ़ल नहीं हो पाए. सोढ़ी ने भारत के लिए 18 वनडे मैच खेले थे.

Source: twitter

3- युवराज सिंह

अंडर-19 'वर्ल्ड कप' जीतने के कुछ ही महीने बाद युवराज सिंह भी भारतीय टीम में शामिल हो गए थे. युवराज सिंह इस टूर्नामेंट में 'मैंन ऑफ़ द सीरीज़' बने थे. पहले मैच में बल्लेबाज़ी का मौका नहीं मिला, लेकिन युवी ने दूसरे ही मैच में ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ शानदार फ़िफ्टी लगाई थी. इसके बाद युवी भारत के सबसे बड़े मैच विनर बने.

Source: icc

4- वेणुगोपाल राव

वेणुगोपाल राव कैफ़ की इस विश्व विजेता टीम के सबसे प्रमुख बल्लेबाज़ थे. वेणुगोपाल राव भी भारत के लिए 16 वनडे खेल चुके हैं. घरेलू क्रिकेट में वो आंध्र प्रदेश के लिए खेल चुके हैं.

Source: dailypost

5- अजय रात्रा

अजय रात्रा कैफ़ की इस विश्व विजेता टीम के विकेटकीपर थे. इस दौरान उनका प्रदर्शन अच्छा था. इसके बाद रात्रा को भी भारतीय टीम में डेब्यू करने का मौका मिला. अजय रात्रा भारत के लिए 6 टेस्ट और 12 वनडे खेल चुके हैं.

Source: twitter

6- शलभ श्रीवास्तव

शलभ श्रीवास्तव कैफ़ की इस विश्व विजेता टीम के प्रमुख तेज़ गेंदबाज़ थे. शलभ ने इस दौरान सर्वाधिक 14 विकेट चटकाए थे. अंडर-19 'वर्ल्ड कप' शलभ टीम इंडिया में दस्तक देने को तैयार थे लेकिन घरेलू क्रिकेट में उनका प्रदर्शन उतना अच्छा नहीं रहा. शलभ IPL में किंग्स इलेवन पंजाब के लिए भी खेल चुके हैं.

Source: indiatvnews

7- रवनीत रिक्की

रवनीत रिक्की कैफ़ की इस विश्व विजेता टीम के सबसे अहम खिलाड़ी थे. रिक्की को एक समय में भारतीय टीम का भविष्य भी कहा जाता था. साल 1997 से लेकर साल 2008 तक वो पंजाब के लिए घरेलू क्रिकेट खेल चुके हैं.

Source: espncricinfo

8- मनीष शर्मा

मनीष शर्मा कैफ़ की इस विश्व विजेता टीम के मुख़्य बल्लेबाज़ थे. मनीष साल 2000 से लेकर साल 2006 तक पंजाब के लिए घरेलू क्रिकेट खेल चुके हैं. 'इंडियन क्रिकेट लीग' में वो चंडीगढ़ लॉयंस का हिस्सा थे.

Source: alchetron

9- मृत्युंजय त्रिपाठी

मृत्युंजय भी कैफ़ की इस विश्व विजेता टीम के अहम खिलाड़ी थे. मृत्युंजय साल 1999 से लेकर 2004 तक यूपी के लिए घरेलू क्रिकेट खेल चुके हैं.

Source: youtube

10- अर्जुन यादव

अर्जुन यादव भी कैफ़ की इस विश्व विजेता टीम के अहम खिलाड़ियों में से एक थे. घरेलू क्रिकेट में वो हैदराबाद लिए काफ़ी क्रिकेट खेल चुके हैं. साल 1999-2012 वो घरेलू क्रिकेट खेलते रहे. अर्जुन यादव IPL में डेक्कन चार्जर्स का हिस्सा रह चुके हैं.

Source: espncricinfo

11- नीरज पटेल

नीरज पटेल कैफ़ की इस विश्व विजेता टीम के अहम बल्लेबाज़ थे. घरेलू क्रिकेट में वो गुजरात के लिए खेला करते थे. नीरज साल 2009 IPL सीज़न में राजस्थान रॉयल्स का हिस्सा भी रह चुके हैं.

Source: crictracker

12- मिहिर दिवाकर

मिहिर दिवाकर कैफ़ की इस विश्व विजेता टीम का हिस्सा थे. साल 1999 से लेकर 2009 तक वो घरेलू क्रिकेट खेलते रहे. आज उनके बारे में कोई जानकारी नहीं है.

Source: twitter

13- अनूप दवे

अनूप दवे भी कैफ़ की इस विश्व विजेता टीम का हिस्सा थे. बदकिस्मती से वो टीम इंडिया में जगह नहीं बना सके. लेकिन घरेलू क्रिकेट में वो राजस्थान के लिए खेलते रहे. अब क्रिकेट छोड़ चुके हैं.

Source: espncricinfo

14- विद्युत शिवरामकृष्णनन

विद्युत भी कैफ़ की इस विश्व विजेता टीम का हिस्सा थे. विद्युत घरेलू क्रिकेट में तमिलनाडु के लिए खेला करते थे. वो एकमात्र खिलाड़ी हैं जिन्होंने घरेलू क्रिकेट में 11वें नंबर पर बल्लेबाज़ी करते हुए शतक लगाया है.

Source: insidesport

अगर क्रिकेट से जुड़ी ऐसी ही ख़बरें आपके पास भी हैं तो हमारे साथ शेयर करें.