क्रिकेट के शौक़ीन हैं तो ये ख़बर सुनकर मेरी तरह ही आपको भी शौक लगेगा. साथ ही हंसी भी आएगी कि आख़िर 1 बॉल पर 286 रन कैसे बन सकते हैं. हमारी क्रिकेटिंग सेंस भी यही कहती है कि 1 बॉल पर 286 रन बनना असंभव है. 

Source: sportskeeda

हम दावे के साथ तो नहीं कह सकते लेकिन लंदन की पत्रिका 'Pall Mall Gazette' में 15 जनवरी 1894 को प्रकाशित हुई रिपोर्ट के मुताबिक़, 19वीं सदी के अंत में ऑस्ट्रेलिया के बनबरी में एक क्लब क्रिकेट टूर्नामेंट के दौरान क्रिकेट इतिहास का ये अद्भुत रिकॉर्ड बना था. 

ये अनोखा मैच 'विक्टोरिया' 'स्क्रैच इलेवन' के बीच खेला गया था. इस दौरान विक्टोरिया के एक बल्लेबाज़ ने मैच की पहली ही गेंद पर जोरदार शॉट मारकर पूरे 286 रन बटोर डाले. अब आप हैरत में होंगे कि पहली ही गेंद पर 286 रन कैसे बन गए? तो चलिए इसके पीछे की दिलचस्प कहानी भी बता देते हैं. 

Source: quora

इस दौरान अंपायर ने बॉल को वापिस लाने के लिए पेड़ को काटने का ही आदेश दिया, लेकिन जब बात इससे भी नही बनी तो बन्दूक से निशाना लगाकर गेंद को वापस लाने की क़वायद शुरू हुई. जब गेंद नीचे गिरी तो फ़ील्डिंग साइड इतनी हताश हो चुकी थी कि किसी ने गेंद को कैच करने की कोशिश भी नहीं की, लेकिन तब तक दोनों बल्लेबाज़ों ने 286 रन बटोर डाले थे. 

Source: quora

रिपोर्ट के मुताबिक़ 22 गज की पिच पर दोनों बल्लेबाज़ों 286 रन बटोरने के लिए 6 किलोमीटर दौड़े. इसके बाद 'विक्टोरिया' ने 286 रन पर ही अपनी पारी घोषित कर दी. जवाब में 'स्क्रैच इलेवन' की टीम 286 रनों का पीछा नहीं कर पाई और मैच हार गयी.   

आज के दौर में इस ख़बर पर भरोसा करना मुश्किल है. लेकिन उस दौर में ये नामूमकिन नहीं था. क्योंकि उस दौर में क्रिकेट नियमों के मुताबिक़ सीमा रेखा पार करने से पहले और गेंद खोने के मामले में बल्लेबाज़ लगातार रन भाग सकते थे. 

हमारी नॉलेज तो ये कहती है कि अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में हमेशा से ही 1 गेंद पर दौड़कर 4 से अधिक रन लेने का नियम था ही नहीं.