जहां लोग ख़ुद को 30 साल के बाद बूढ़ा मानना शुरू कर देते हैं वहीं कुछ ऐसे भी लोग हैं जो 40 साल की उम्र में फ़र्स्ट क्लास क्रिकेट में डेब्यू करते हैं. यहां हम बात कर रहें हैं सांता मूर्ति (Santha Moorthy) की जिन्होंने T20 क्रिकेट में एक नायाब रिकॉर्ड बनाया है. 

Source: Sportsstar

सैयद मुश्ताक़ अली ट्रॉफ़ी (Syed Mushtaq Ali Trophy) के साथ घरेलू क्रिकेट में वापसी हो रही है. 17 जनवरी (रविवार) को मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में मुंबई और पुडुचेरी के बीच खेले गए मैच में Santha Moorthy ने 4 ओवर में 20 रन देकर 5 विकेट झटक लिए. Santha Moorthy पुडुचेरी की तरफ़ से खेल रहें थे. इसी के साथ 41 साल और 129 दिन की उम्र में किसी T20 मैच में 5 विकेट लेने वाले Santha Moorthy, ऐसा करने वाले सबसे उम्रदराज़ खिलाड़ी बन गए.

Santha Moorthy ने मुंबई के शुरुआती चार बल्लेबाज़ों (यशस्वी जायसवाल, आदित्य तारे, कप्तान सूर्य कुमार यादव और सिद्धार्थ लाड) के साथ-साथ सुजीत नायक को पवेलियन की राह दिखा दी. मुंबई की टीम 94 रन पर सिमट गई और पुडुचेरी 6 विकेट से ये मैच जीत लिया.

Source: sportstar.thehindu.com

ग़ौरतलब है कि Santha Moorthy ने पिछले साल 40 साल की उम्र में अपना पहला फ़र्स्ट क्लास क्रिकेट मैच खेला था. रणजी ट्रॉफ़ी के उस मैच में भी उन्होंने 5 विकेट लिए थे. कल के T20 मैच के रिकॉर्ड के अलावा वो रणजी ट्रॉफ़ी के किसी एक मैच में 5 विकेट लेने वाले सबसे उम्रदराज़ क्रिकेटर भी हैं.

Source: mykhel

इससे पहले ये रिकॉर्ड केनुट टुलोच के नाम था जिन्होंने केमैन आइलैंड्स की ओर से खेलते हुए बहामास के खिलाफ़ 4 ओवर में 21 रन देकर पांच विकेट लिए थे. तब उनकी उम्र 41 साल 7 दिन थी.