बीते रविवार को ऑस्ट्रेलिया के 'मेलबर्न क्रिकेट ग्रांउड' पर भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच 'महिला टी-20 वर्ल्ड कप' का फ़ाइनल खेला गया. इस ख़िताबी मुक़ाबले में भारत को 85 रनों से हराकर ऑस्ट्रेलिया 5वीं बार वर्ल्ड चैंपियन बना.

Source: observerbd

ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज़ी करते हुए 20 ओवरों में 4 विकेट पर 184 रन बनाए. ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों ने शुरुआत से ही अटैकिंग क्रिकेट खेली. ओपनर एलिसा हिली और बेथ मूनी ने पहले विकेट के लिए 115 रन की साझेदारी की. हालांकि, इस दौरान शुरुआत में ही भारतीय फ़ील्डरों ने इन दोनों के कैच भी टपकाए. इस दौरान हिली ने 5 छक्कों की मदद से मात्र 39 गेंदों पर 75 रनों की लाजवाब पारी खेली. जबकि मूनी ने 78 रनों की नाबाद पारी खेली.

Source: indiatoday

इसके जवाब में भारतीय टीम 19.1 ओवर में 99 रन पर ऑलआउट हो गई. भारत की ओर से ऑलराउंडर दीप्ति शर्मा ने सबसे ज़्यादा 33 रन जबकि वेदा कृष्णमूर्ति ने 19 रनों की पारी खेली. चोटिल तानिया भाटिया की जगह बतौर कन्कसन बल्लेबाज़ी करने उतरीं रिचा घोष ने भी 18 रन बनाए. मैच में टीम इंडिया के टॉप-5 बल्लेबाज़ सिर्फ़ 19 रन ही बना पाए. यही भारत की हार का मुख्य कारण भी रहा.

Source: abc

भारतीय टीम को सबसे ज़्यादा उम्मीदें युवा ओपनर शेफ़ाली वर्मा पर थीं, जिसने इस टूर्नामेंट में भारत की ओर से सबसे अधिक (163) रन बनाए. लेकिन फ़ाइनल में वो सिर्फ़ 2 रन बन ही बना सकीं. इस दौरान स्मृति मंधाना 11 रन, तानिया भाटिया 2 (रिटायर्ड हर्ट), जेमिमा रोड्रिग्ज 0 रन और हरमनप्रीत कौर सिर्फ़ 4 रन ही बना सकीं. ऑस्ट्रेलिया की ओर से मेगन शूट ने सबसे अधिक 4 और जेस जोनासन ने 3 विकेट लिए.

Source: bhaskar

मैच हारने के बाद शेफ़ाली वर्मा, जेमिमा रोड्रिग्ज और हरलीन देओल बेहद भावुक हो गईं थीं.

हरलीन देओल

Source: bhaskar

एलिसा ने तोड़ा हार्दिक पंड्या का रिकॉर्ड

ऑस्ट्रेलियाई ओपनर एलिसा हिली आईसीसी इवेंट के फ़ाइनल में (पुरुष या महिला) सबसे तेज़ हाफ़ सेंचुरी बनाने वाली क्रिकेटर बन गईं. हिली ने फ़ाइनल मुक़ाबले में भारत के ख़िलाफ़ महज 30 गेंद पर अर्धशतक लगाकर भारतीय ऑलराउंडर हार्दिक पंड्या के रिकॉर्ड को भी तोड़ दिया है. पंड्या ने साल 2017 चैम्पियंस ट्रॉफ़ी के फ़ाइनल में पाकिस्तान के ख़िलाफ़ 32 गेंदों पर हाफ़ सेंचुरी बनाई थी.

मिशेल स्टार्क पहुंचे थे पत्नी को सपोर्ट करने

जानकारी दे दें कि एलिसा हिली ऑस्ट्रेलिया के तेज़ गेंदबाज मिशेल स्टार्क की पत्नी हैं. स्टार्क साऊथ अफ़्रीका दौरा छोड़कर पत्नी को फ़ाइनल मैच में सपोर्ट करने शुक्रवार को ही मेलबर्न पहुंच गए थे. रविवार को वो मैच ख़त्म होने तक दर्शक दीर्घा में बैठे रहे. तमाम पूर्व क्रिकेटरों समेत भारतीय टेनिस स्टार सानिया मिर्ज़ा ने भी मिशेल स्टार्क के इस कदम की ख़ूब सराहना की.

Source: indiatoday

हरमनप्रीत की मां ने देखा पहली बार बेटी का मैच

फ़ाइनल मुक़ाबले के दिन भारतीय कप्तान हरमनप्रीत कौर का जन्मदिन भी था. इस ख़ास मौके पर पहली बार उनकी मां बेटी का मैच देखने के लिए स्टेडियम पहुंची थीं. इस दौरान मैच शुरू होने से पहले मशहूर सिंगर केटी पेरी ने स्टेडियम में मौजूद हज़ारों दर्शकों को अपने गानों पर थिरकने को मजबूर किया.

Source: jagran

शेफ़ाली वर्ल्ड कप खेलने वाली सबसे युवा खिलाड़ी

भारतीय ओपनर शेफ़ाली वर्मा ICC के किसी भी फ़ॉर्मेट में वर्ल्ड कप फ़ाइनल खेलने वाली सबसे युवा (महिला और पुरुष) खिलाड़ी बन गईं हैं. शेफ़ाली की उम्र 16 साल 40 दिन है. इससे पहले वेस्टइंडीज की महिला क्रिकेटर शकाना क्विनटाइन ने साल 2013 में 17 साल 45 दिन की उम्र में वनडे वर्ल्ड का फ़ाइनल खेला था.

Source: indiatoday

महिला क्रिकेट इतिहास का सबसे बड़ा मैच

भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले गए इस फ़ाइनल मुक़ाबला को देखने स्टेडियम में 86,174 दर्शक पहुंचे थे. इसके साथ ही ये महिला क्रिकेट इतिहास का पहला ऐसा मैच बन गया है जिसे सबसे अधिक दर्शकों ने स्टेडियम में बैठकर देखा.

फ़ाइनल मुक़ाबले में 75 रनों की धमाकेदार पारी खेलने वाली एलिसा हीली 'प्लेयर ऑफ़ द मैच' रहीं. जबकि टूर्नामेंट में सबसे अधिक 259 रन बनाने वाली बेथ मूनी 'प्लेयर ऑफ़ द टूर्नामेंट' चुनी गईं.

Source: outlookindia

ऑस्ट्रेलियाई टीम को 7 करोड़, 40 हज़ार रुपये मिले, जबकि उप-विजेता रही भारतीय टीम को 3 करोड़ 70 हज़ार रुपये की इनाम राशि दी गई.