गुरुवार को अहमदाबाद के मोटेरा स्टेडियम में हुई भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) की 89वीं एनुअल जनरल मीटिंग (AGM) में 'IPL 2022' के लिए बड़ा फ़ैसला लिया गया है. इस दौरान AGM में कई अन्य फ़ैसले भी लिए गए. 

बीसीसीआई ने अपनी सालाना बैठक में जो सबसे अहम फ़ैसला लिया वो है 'IPL 2022' में 8 नहीं, बल्कि 10 टीमें दिखाई देंगी. हालांकि, पहले से ही कयास लगाए जा रहे थे कि 'IPL 2021' में 8 नहीं, बल्कि 10 टीमें खेलेंगी, लेकिन सर्व सहमति से ये फ़ैसला लिया गया कि 2022 के IPL में ही 10 टीमें खेलेंगी. 

Source: dnaindia

अडानी ग्रुप और गोयनका ग्रुप की दिलचस्पी 

आईपीएल की नई टीमों में 'अहमदाबाद फ़्रेंचाइज़ी' को लेकर बातचीत चल रही है. अडानी ग्रुप और गोयनका ग्रुप दोनों ने ही इस फ़्रेंचाइज़ी को ख़रीदने में दिलचस्पी दिखाई है. 

इसके अलावा मीटिंग में कई अन्य महत्वपूर्ण फ़ैसले भी लिए गए. कोरोना की वजह से जितने भी फ़र्स्ट क्लास प्लेयर्स हैं, चाहे वो पुरुष हो या महिला सबके नुकसान की भरपाई के लिए बीसीसीआई द्वारा उन्हें मुआवजा दिया जाएगा. इस दौरान BCCI इंटरनेशनल ओलिंपिक कमेटी से क्लेरीफ़िकेशन के बाद '2028 ओलिंपिक' में क्रिकेट को शामिल करने के ICC के फ़ैसले का समर्थन भी करेगा. 

Source: wisden

क्रिकेटरों का इंश्योरेंस कवर बढ़कर 10 लाख रुपए 

मीटिंग में BCCI ने क्रिकेटरों का इंश्योरेंस कवर बढ़ाकर 5 लाख से 10 लाख रुपए कर दिया है. इसके साथ ही बोर्ड ने अंपायर्स, मैच रेफ़री और स्कोरर्स की रिटायरमेंट उम्र को बढ़ाकर 55 से 60 कर दिया है. 

गांगुली ICC बोर्ड में डायरेक्टर बने रहेंगे 

सूत्रों के मुताबिक बैठक में ये फ़ैसला भी लिया गया है कि BCCI अध्यक्ष सौरव गांगुली ICC बोर्ड में डायरेक्टर बने रहेंगे. उनकी ग़ैर-मौजूदगी में सेक्रेटरी जय शाह डायरेक्टर की ज़िम्मेदारी संभालेंगे. इसके अलावा जय शाह ICC में भारत के रिप्रेजेंटेटिव भी होंगे. इस दौरान वो ICC के चीफ़ एग्ज़ीक्यूटिव मीटिंग में बोर्ड का प्रतिनिधित्व करेंगे. 

इसके अलावा बीसीसीआई सेक्रेटरी जय शाह और कोषाध्यक्ष अरुण धूमल केंद्र सरकार से 'ICC टी-20 वर्ल्ड कप 2021' और '2023 वनडे वर्ल्ड कप' को लेकर टैक्स में छूट देने को लेकर भी बात करेंगे, क्योंकि ये दोनों ही 'वर्ल्ड कप' भारत की मेज़बानी में होने हैं.