इंडियन टीम के पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज़ नमन ओझा ने क्रिकेट के सारे प्रारूपों से सोमवार से सन्यास लेने की घोषणा कर दी है. वो पिछले दो दशक से घरेलू क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन कर रहे थे. 

नमन ओझा ने कल एक प्रेस कॉन्फ़्रेंस कर अपने संन्यास की घोषणा की. नम आंखों से संन्यास की घोषणा करते हुए उन्होंने कहा कि अब वो दुनियाभर की टी-20 लीग्स में खेलना चाहते हैं. इसके साथ ही उन्होंने देश और राज्य की टीम से खेलने के लिए ख़ुद को ख़ुश किस्मत बताते हुए सबका आधार व्यक्त किया. 

Naman Ojha
Source: circleofcricket

एमपी से आने वाले क्रिकेटर नमन ओझा के नाम बतौर विकेट कीपर रणजी ट्रॉफ़ी में सबसे अधिक शिकार(351) करने का रिकॉर्ड है. उन्होंने भारत की तरफ से  मात्र 1 वनडे, 1 टेस्ट और 2-T20 खेले हैं. फ़र्स्ट क्लास क्रिकेट में उन्होंने 22 शतक और 55 अर्धशतक जड़े और उनका सर्वाधिक स्कोर नाबाद 219 रन रहा.

Naman Ojha
Source: thehindu

घरेलू क्रिकेट और आईपीएल में शानदार प्रदर्शन के बाद नमन ओझा ने 2010 में श्रीलंका के ख़िलाफ एकदिवसीय और ज़िम्बाब्वे के खिलाफ़ टी-20 में डेब्यू किया था. 2015 में उन्हें भारतीय टेस्ट टीम के लिए चुना गया. श्रीलंका दौरे पर तीसरे टेस्ट में उन्हें पदार्पण का मौक़ा मिला था.

Naman Ojha
Source: indianexpress

नमन ओझा ने पिछले साल जनवरी में उत्तर प्रदेश के ख़िलाफ अपना आख़िरी रणजी मैच खेला था. वो आईपीएल में दिल्ली डेयरडेविल्स, राजस्थान रॉयल्स और सनराइजर्स हैदराबाद की टीम्स से खेल चुके हैं.