दुनियाभर में कोरोना वायरस का कहर जारी है. अब भी ज़िंदगी पूरी तरह से पटरी पर लौटी नहीं है. आख़िर कब तक लोग घरों में रहकर कोरोना के डर में जीते रहेंगे. परिवार का पेट पालने के लिए घर से बाहर निकलना ही एकमात्र उपाय है. इसलिए अब लोगों ने इस 'New Normal' के साथ जीना शुरू कर दिया है.

Source: livemint

इस न्यू नार्मल के साथ ही दुनियाभर में स्पोर्ट्स इवेंट भी शुरू हो गए हैं. इन दिनों यूएई में दुनिया का सबसे बड़ा टी-20 क्रिकेट टूर्नामेंट 'आईपीएल' खेला जा रहा है. आईपीएल ने कुछ हद तक लोगों की बोरियत ज़रूर कम की है. अब शाम 7 बजते ही लोग मैच देखने के लिए टीवी के सामने जुट जाते हैं. 

Source: indiatvnews

आईपीएल को लेकर आईसीसी व बीसीसीआई द्वारा खिलाड़ियों की सेफ़्टी के लिए 'बायो सेक्योर बबल' बनाया गया है. इस दौरान खिलाड़ियों और सपोर्ट स्टाफ़ को मैदान से लेकर होटल तक कई तरह के नियमों का पालन करना पड़ता है. 

Source: ndtv

आईपीएल मैच के दौरान आपने अक्सर खिलाड़ियों या फिर टीम के कप्तान को दो-दो कैप पहने हुए देखा होगा. क्या आप जानते हैं इसके पीछे क्या कारण है? बता दें कि कप्तान द्वारा दो-दो कैप पहनना ICC द्वारा जारी 'COVID-19' संबंधित ऑन-फ़ील्ड प्रोटोकॉल है.

Source: news18

मैच के दौरान खिलाड़ियों को अनावश्यक शरीर संपर्क बनाने के आलावा अपनी कैप, सन ग्लास और तौलिया साथी खिलाड़ी या फिर अंपायर को सौंपना इस नियम के ख़िलाफ़ है. ऐसे में गेंदबाज़ी के दौरान गेंदबाज़ अपनी कैप, सन ग्लास और तौलिया केवल कप्तान को ही सौंप सकता है. यही कारण है कि टीम के कप्तान दो कैप लगाए नज़र आते हैं.

Source: cricfit

बीते बुधवार को 'कोलकाता नाइट राइडर्स' और 'रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर' के बीच खेले गए मुक़ाबले के दौरान आपने KKR के कप्तान इयोन मोर्गन को दो कैप पहने हुए देखा होगा. इससे पहले इंग्लैंड-ऑस्ट्रेलिया के बीच खेली गई पिछली सीरीज़ के दौरान भी इंग्लैंड के कप्तान इयोन मोर्गन और उनके ऑस्ट्रेलिया के कप्तान आरोन फिंच को दो दो कैप पहने देखा गया था.