World Cup 2019 के लिए टीम इंडिया का एलान हो चुका है. कई सालों बाद दिनेश कार्तिक को वर्ल्ड कप टीम में देखकर फ़ैंस ख़ुश हैं. कार्तिक को सोशल मीडिया पर अब तक हज़ारों फ़ैंस शुभकामनाएं दे चुके हैं.

Source: hindustantimes

निःसंदेह दिनेश कार्तिक भारत के सबसे बेहतरीन विकेटकीपर बल्लेबाज़ में से एक हैं, लेकिन धोनी जैसे महान खिलाड़ी की वजह से कार्तिक टीम इंडिया में नियमित जगह नहीं बना पाए.

कार्तिक के पक्ष में गईं ये बातें

Source: sportskeeda

इस समय टीम इंडिया कमज़ोर मिडिल ऑर्डर से जूझ रही है. वहीं कार्तिक मिडिल ऑर्डर के शानदार बल्लेबाज़ हैं. कई बार टीम को जीत भी दिला चुके हैं. चौके-छक्कों से रन बटोरने के मामले में भी कार्तिक लंबा हिट कर लेते हैं.

टीम इंडिया के सबसे सीनियर खिलाड़ी

Source: gulfnews

33 साल के कार्तिक इस समय टीम इंडिया के सबसे सीनियर खिलाड़ी हैं. उन्होंने धोनी से पहले टीम इंडिया में डेब्यू किया था. कार्तिक ने साल 2004 में इंग्लैंड के ख़िलाफ़ अपना पहला अंतरराष्ट्रीय वनडे मैच खेला था. इस मैच में इन्होंने 12 गेंदों पर केवल 1 रन बनाया था.

दिनेश कार्तिक साल 2007 T-20 वर्ल्ड कप में भी टीम इंडिया के हिस्सा थे.

Source: theothersports

दिनेश कार्तिक ने 'निदाहस ट्रॉफ़ी' के फ़ाइनल में बांग्लादेश के ख़िलाफ़ 8 गेंदों पर 29 रन बनाकर भारत को जीत दिलाई थी.

दिनेश कार्तिक 14 साल के करियर में छह कप्तानों की कप्तानी में खेल चुके हैं.

Source: crictracker

कार्तिक इस साल सिर्फ़ 5 वनडे मैच ही खेल पाए हैं.

Source: indiatoday

साल 2004 में डेब्यू किया, 10 टेस्ट खेलने के बाद ड्रॉप हुए

Source: indiatoday

33 साल के कार्तिक देश के उन चुनिंदा खिलाड़ियों में से एक हैं, जिन्होंने टेस्ट क्रिकेट में पांच बार वापसी की. वो पहली बार साल 2004 में टीम में चुने गए थे. उन्होंने लगातार 10 टेस्ट खेले. फिर टेस्ट से ड्रॉप हो गए. एक साल बाद फिर वापसी की और इस बार वो नौ टेस्ट मैच ही खेल सके. फिर टीम से बाहर हो गए. इसके बाद उन्होंने 2008 में दो, 2009 में एक और 2010 में भी एक टेस्ट खेला. कार्तिक ने साल 2010 में ड्रॉप होने के 8 साल बाद 2018 में वापसी की.

कार्तिक आईपीएल में कोलकाता नाइट राइडर्स के कप्तान हैं.