टीम इंडिया के पूर्व कप्तान मोहम्मद अज़हरुद्दीन 'हैदराबाद क्रिकेट संघ' के नए अध्यक्ष चुने गए हैं. पूर्व कांग्रेस संसद अज़हर ने अपने प्रतिद्वंद्वी को 74 वोट के अंतर से हराया. प्रकाश चंद जैन पर 147-73 वोट की विशाल बढ़त के साथ अज़हर एचसीए के नए अध्यक्ष चुने गए.

Source: thestatesman

मोहम्मद अज़हरुद्दीन भारत के सबसे सफ़ल कप्तानों में से एक हैं. उन्होंने पिछले सप्ताह ही नामांकन दाखिल किया था. जबकि 2 साल पहले अज़हर का नामांकन निर्वाचन अधिकारी द्वारा रद्द कर दिया गया था क्योंकि अज़हर उस वक़्त BCCI द्वारा उन पर लगाए गए मैच फ़िक्सिंग के प्रतिबंध को हटाने के सबूत पेश नहीं कर पाए थे.

Source: indianexpress

साल 2000 में अज़हर पर मैच फ़िक्सिंग के आरोप लगे थे, जिसके बाद BCCI ने उनके आजीवन क्रिकेट खेलने पर बैन लगा दिया था. 8 नवंबर 2012 को आंध्र प्रदेश हाई कोर्ट ने अज़हरुद्दीन पर लगे आजीवन प्रतिबंध को खारिज किया था.

Source: derbyshireccc

मोहम्मद अज़हरुद्दीन ने भारत के लिए 99 टेस्ट और 334 वनडे इंटरनेशनल मैच खेले. इस दौरान टेस्ट में उन्होंने टेस्ट में 6215 और वनडे में 9378 रन बनाए. अज़हरुद्दीन ने 47 टेस्ट और 174 वनडे मैचों में भारत का नेतृत्व भी किया. डेब्यू करते हुए लगातार तीन टेस्ट मैचों में 3 शतक लगाने का वर्ल्ड रिकॉर्ड आज भी अज़हर के नाम है.

Source: crictracker

अज़हरुद्दीन ने 31 दिसंबर 1984 को इंग्लैंड के ख़िलाफ़ टेस्ट मैच से इंटरनेशनल क्रिकेट में दस्तक दी थी. अज़हर को उनकी बल्लेबाज़ी स्टाइल के लिए उनको 'कलाइयों का जादूगर' भी कहा जाता है.

Source: indiatimes

इसके साथ ही लोढ़ा कमेटी की सिफ़ारिशें लागू होने के बाद हुए चुनाव में सौरव गांगुली को 'बंगाल क्रिकेट संघ' (सीएबी) का निर्विरोध अध्यक्ष चुना गया. वहीं अनुराग ठाकुर के छोटे भाई अरुण धूमल 'हिमाचल प्रदेश क्रिकेट संघ' (एचपीसीए) के नए अध्यक्ष चुने गए. जबकि संजय बेहड़ा 'ओडिशा क्रिकेट संघ' (ओसीए) के सचिव चुने गए हैं.