दोहा में एशियन एथलेटिक्स चैंपियनशिप चल रही थी. भारत ने अलग-अलग स्पर्धाओं कुल 17 मेडल हासिल किए हैं.


800 मीटर दौड़ में भारत का प्रतिनिधत्व कर रही थीं गोमती मरीमुथू.

भारत की गोमती मरीमुथू ने इतिहास रच दिया, लेकिन क्या आपको इसके बारे में पता चला?


गोमती ने 800 मीटर की दौड़ में भारत के लिए स्वर्ण पदक जीता. दौड़ के दौरान हौसला बढ़ाने वाला कोई नहीं था और न ही जीत के बाद कोई गले लगाने वाला. गोमती के प्रतिद्वंदियों ने भी उन्हें बधाई नहीं दी.

वीडियो में गोमती दोनो पैरों में अलग-अलग रंग के जूते पहने दिखाई दे रही हैं.

एक ट्विटर यूज़र के अनुसार,


'एक इंटरव्यू में उन्होंने फटे जूतों के साथ दौड़ने की बात कही थी. खेल मंत्रालय को शर्म आनी चाहिए'.

वीडियो को अब तक 5 हज़ार से ज़्यादा Retweets और 2700 से ज़्यादा Likes मिल चुके हैं. वीडियो पर ट्विटर यूज़र्स की प्रतिक्रिया:

तमिलनाडू के सेलम की गोमती जब पदक जीत के चेन्नई पहुंची तो उनका गर्मजोशी से स्वागत किया गया. एक स्कूल में गोमती को सम्मानित भी किया गया.

Source: Sports Star

गोमती पर हम सभी को गर्व है.