टेस्ट क्रिकेट इतिहास में आपने एक से बढ़कर एक रोमांचक मैच देखे होंगे. आज हम एक ऐसे मैच का ज़िक्र करने जा रहे हैं जो अपने आप में एक इतिहास है. इस टेस्ट मैच की सिर्फ़ दो पारियों में ही कुल 1489 रन बन गए थे. एक पारी में सर्वाधिक 952 रन बनाने का रिकॉर्ड भी इसी टेस्ट मैच में बना था.

Source: deccanchronicle

ख़ास बात ये है कि इस ऐतिहासिक टेस्ट मैच की एक टीम भारतीय टीम थी.

तो चलिए इस ऐतिहासिक टेस्ट मैच की उन दो महान पारियों के बारे में भी जान लेते हैं-

बात साल 1997 की है. भारतीय टीम श्रीलंका दौरे पर गई हुई थी. इस दौरान दोनों टीमों के बीच सीरीज़ का पहला टेस्ट मैच कोलंबो के प्रेमदासा स्टेडियम में खेला गया.

Source: thequint

भारत ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज़ी करने का फ़ैसला किया. नवजोत सिंह सिद्दू (111), सचिन तेंदुलकर (143) और मोहम्मद अज़हरुद्दीन (126) की शतकीय पारियों के दम पर भारत ने पहली पारी में 537 रन बनाए. डेढ़ दिन में भारत ने 8 विकेट खोकर 537 रन बनाकर पारी घोषित कर दी थी.

Source: pinterest

टीम इंडिया अपने इस प्रदर्शन से ख़ुश थी. लेकिन इसके बाद जो हुआ वो आज भी इतिहास है.

श्रीलंकाई टीम दूसरे दिन ही बल्लेबाज़ी करने मैदान में उतर गई थी. इसके बाद टेस्ट मैच ख़त्म होने तक मैदान में ही डटी रही.

Source: espncricinfo

दरअसल, दूसरे दिन श्रीलंका ने 39 रन पर मर्वन अटापट्टू के रूप में अपना पहला विकेट गंवा दिया था. इसके बाद सनथ जयसूर्या और रौशन महानामा ने वो किया जिसे टेस्ट क्रिकेट में कोई और कर नहीं पाया था. जयसूर्या और महानामा की जोड़ी ने दूसरे विकेट के लिए 576 रनों की साझेदारी कर डाली. जो आज भी रिकॉर्ड है. पूरे तीन दिन तक खेलते हुए जयसूर्या ने 340 रन बनाये जबकि महानामा ने भी 225 रनों की शानदार पारी खेली

Source: naidunia

टीम इंडिया के लिए ख़ास बात ये रही कि 615 रनों के कुल योग पर जयसूर्या और महानामा की ये जोड़ी टूट गयी. पहले कुंबले की गेंद पर महानामा फिर राजेश चौहान की गेंद पर जयसूर्या भी चलते बने. इसके बाद भी श्रीलंकाई बल्लेबाज़ों का कहर जारी रहा अरविंद डी सिल्वा ने 126 रनों की पारी, कप्तान अर्जुन रणतुंगा ने 86 रन जबकि महेला जयवर्दने ने भी 66 रनों की पारी खेली.

Source: cricketique

टेस्ट मैच के पांचवे और आख़िरी दिन श्रीलंका ने अपनी पहली पारी 6 विकेट खोकर 952 रनों पर घोषित कर दी. इस दौरान भारत की ओर से गांगुली को सर्वाधिक 2 विकेट मिले. इसके साथ ही ये टेस्ट मैच दो इनिंग खेलने के साथ ही ड्रॉ पर समाप्त हो गया.