'चेन्नई सुपर किंग्स' के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी वो जौहरी हैं, जो ज़ीरो को भी हीरो बना देते हैं. खेल और खिलाड़ी को परखने की नज़र शायद ही धोनी से बेहतर किसी और के पास होगी. मैच में कब, क्या और कैसे करना है, धोनी को इसमें महारत हासिल है. बल्लेबाज़ मैदान पर जो सोचकर आता है, धोनी उसकी प्लानिंग पहले ही कर चुके होते हैं.

Source: yahoo.com

पिछले साल 'चेन्नई सुपर किंग्स' ने दो साल के बैन के बाद धमाकेदार वापसी की थी. उस वक़्त हर कोई धोनी की टीम को 'बुज़ुर्गों की फ़ौज' कह रहा था, लेकिन धोनी की कप्तानी में अनुभवियों की यही फ़ौज चैंपियन बनी थी.

Source: indiatoday.in

आईपीएल में विराट के पास चहल, रोहित के पास दुनिया के नंबर वन गेंदबाज़ बुमराह और कार्तिक के पास कुलदीप यादव जैसे स्टार गेंदबाज़ हैं, तो वहीं धोनी के पास हरभजन और ताहिर, जिनको कोई भी फ़्रेंचाइज़ी अपनी टीम में लेना तक नहीं चाहती थी लेकिन धोनी इन गेंदबाज़ों को लेकर वो कर दिखाया, जिसे सिर्फ़ धोनी ही कर पाते.

Source: sportskeeda

आईपीएल शुरू होने से पहले क्रिकेट के दिग्गज, बॉलर्स को धोनी की कमज़ोर कड़ी मान रहे थे लेकिन धोनी ने उसी को अपना मज़बूत पक्ष बना लिया है. धोनी वो मास्टर हैं, जो 38 साल के हरभजन और 37 साल के इमरान ताहिर से भी शानदार गेंदबाज़ी करा लेते हैं.

Source: cricketaddictor

धोनी ने इन दोनों स्पिनरों की तारीफ़ में कहा कि 'ये दोनों पुरानी शराब की तरह हैं, जो समय के साथ निखरते जा रहे हैं. हरभजन और ताहिर ने अपने प्रदर्शन से साबित कर दिया है कि उम्र सिर्फ़ एक नंबर है. अगर आप मेहनत करना चाहें, तो कुछ भी कर सकते हैं.'

Source: indiatoday
धोनी कहते हैं कि 'जब सामने वाली टीम अपना प्लान सेट कर लेती है, तो मैं ये देखता हूं कि बल्लेबाज़ कैसे खेल रहा है. फिर उसी हिसाब से गेंदबाज़ों से गेंदबाज़ी कराई जाती है. मैं ये नहीं मानता कि मैच से पहले गेंदबाज़ों के साथ लंबी मीटिंग करके मैच में पकड़ बनाई जा सकती है क्योंकि मैदान पर हर एक मिनट में गेम चेंज होता है.'

हरभजन और ताहिर तो हैं ही, कुछ ऐसे गेंदबाज़ भी हैं, जो इस साल धोनी की कप्तानी में हीरो बन चुके हैं-

1- दीपक चाहर

Source: deccanchronicle

दीपक चाहर इतने बड़े गेंदबाज़ नहीं माने जाते हैं, लेकिन धोनी की कप्तानी में वो काफ़ी अच्छी गेंदबाज़ी कर रहे हैं. किंग्स XI के ख़िलाफ़ खेले गए मुक़ाबले में ख़राब गेंदबाज़ी के कारण धोनी ने चाहर को ख़ूब डांट लगाई थी. इसके बाद चाहर ने मंगलवार को KKR के ख़िलाफ़ वापसी करते हुए 3 महत्वपूर्ण विकेट चटकाए.

2- ड्वेन ब्रावो

Source: indiatvnews

ब्रावो T-20 के एक्सपर्ट माने जाते हैं. पिछले कुछ समय से उनका प्रदर्शन उतना बढ़िया नहीं रहा. ब्रावो PCL में भी कुछ ख़ास कर नहीं पाए, लेकिन अब वो धोनी के अंडर में शानदार गेंदबाज़ी कर रहे हैं.

3- रविंद्र जडेजा

Source: crictracker

जडेजा भारतीय टेस्ट टीम के तो नियमित सदस्य हैं, लेकिन वनडे और T-20 में उनकी जगह पक्की नहीं है. गेंदबाज़ी के दौरान जड्डू और धोनी की अंडरस्टेंडिंग बेहद शानदार मानी जाती है. जडेजा इस बार आईपीएल में किफ़ायती गेंदबाज़ी कर रहे हैं और 5 विकेट भी झटक चुके हैं.

4- हरभजन सिंह

Source: deccanchronicle

भज्जी पिछले कुछ सालों से टीम इंडिया में जगह बनाने की कोशिश में लगे हुए हैं, लेकिन आश्विन, जडेजा, कुलदीप और चहल के रहते ये आसान नहीं है. इस साल घरेलु क्रिकेट में भी उनका प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा. धोनी के अंडर में भज्जी आईपीएल में शानदार गेंदबाज़ी कर रहे हैं. 4 मैच में 5.12 की इकॉनोमी के साथ 7 विकेट झटक चुके हैं.

5- इमरान ताहिर

Source: sportskeeda

37 वर्षीय ताहिर गेंदबाज़ी तो अच्छी करते हैं, लेकिन दक्षिण अफ़्रीकी टीम इन पर ज़्यादा भरोसा नहीं करती. टीम से अंदर-बाहर होते रहते हैं. ताहिर इस साल अब तक खेले गए 6 मुक़ाबलों में 5.36 की इकॉनोमी के साथ 9 विकेट झटक चुके हैं. धोनी के तुरुप के पत्ते माने जाते हैं.

महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली 'चेन्नई सुपर किंग्स' इस समय आईपीएल के 6 में से 5 मुक़ाबले जीत कर पॉइंट टेबल में टॉप पर है.