भारत-ऑस्ट्रेलिया के बीच खेला गया सिडनी टेस्ट मैच ड्रॉ हो चुका है. ऋषभ पंत (97) और पुजारा (77) की शानदार बल्लेबाज़ी के दम पर टीम इंडिया इस मैच को ड्रॉ कराकर करारी हार से बच गया है. दूसरी इनिंग में भारत ने 5 विकेट खोकर 334 रन बनाए. अब 15 जनवरी से ब्रिस्बेन में खेला जाने वाला आख़िरी टेस्ट जीतने वाली टीम सीरीज़ की विजेता भी होगी.

Source: indiatvnews

 सिडनी टेस्ट में दर्शकों द्वारा भारतीय तेज़ गेंदबाज़ मोहम्मद सिराज और नवदीप सैनी पर की गयी नस्लीय टिप्पणी के बाद आईसीसी ने भारत ने इसकी कड़ी निंदा की है. इसके साथ ही आईसीसी ने क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया से इस संबंध में जवाब भी मांगा है.  

Source: india

आईसीसी ने अपने बयान में कहा कि, भारतीय टीम ने तीसरे दिन का खेल खत्म होने के बाद नस्लीय टिप्पणियों को लेकर मैच रेफ़री डेविड बून से शिकायत की थी. इस संबंध में हम आस्ट्रेलियन क्रिकेट बोर्ड को जांच में पूरा समर्थन देने को तैयार हैं. हम खेल में हम किसी तरह से नस्लवाद की बर्दाश्त नहीं करेंगे.  

आईसीसी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी मनु स्वाहने ने कहा, हमारे खेल में भेदभाव को लेकर कोई जगह नहीं है. हमारी भेदभाव को लेकर नीति है जिसे सदस्यों को मानना होता है और ये सुनिश्चित करना होता है कि दर्शक भी उसे मानें. मैदान पर मौजूद अधिकारियों और क्रिकेट आस्ट्रेलिया (सीए) ने जो कदम उठाए हम उससे खुश हैं.  

बता दें कि टेस्ट मैच के चौथे दिन स्टेडियम में आईसीसी अधिकारी और स्टेडियम के अधिकारी चौकन्ने थे. बावजूद इसके चौथे दिन जब मोहम्मद सिराज ने एक बार फिर से नस्लीय टिप्पणी की शिकायत दर्ज कराई तो खेल रोक दिया गया. इसके बाद सुरक्षा अधिकारियों ने 6 लोगों को मैदान से बाहर भेज दिया था. इस मामले में कुछ लोगों को पहचान के हिरासत में भी रखा गया है.