पाकिस्तान की टीम इन दिनों ऑस्ट्रेलियाई दौरे पर है. टी-20 सीरीज़ में 2-0 से हार पाकिस्तान को ब्रिसबेन में खेले गए पहले टेस्ट मैच में भी करारी हार झेलनी पड़ी. ऑस्ट्रेलिया ने पाकिस्तान को पहले टेस्ट में इनिंग और 5 रनों से शिकस्त देकर 2 मैचों की टेस्ट सीरीज़ में 1-0 से बढ़त हासिल कर ली है.

Source: amarujala

ब्रिसबेन में ऑस्ट्रेलिया-पाकिस्तान के बीच खेले गए पहले टेस्ट मैच से पहले एक दिलचस्प वाक़या देखने को मिला. ब्रिसबेन में भारतीयों की काफ़ी तादाद है. यहां कई इंडियन रेस्टोरेंट भी हैं. ऐसे में मैच से एक दिन पहले पाकिस्तानी टीम के कुछ खिलाड़ी खाने-पीने के लिए भारतीय रेस्टोरेंट की तलाश में थे.

Source: freepressjournal

इस दौरान यासिर शाह, शाहीन अफ़रीदी और नसीम शाह समेत कुछ खिलाड़ियों ने कैब हायर ली. लेकिन किस्मत से टैक्सी ड्राइवर भारतीय निकला. इस दौरान टैक्सी ड्राइवर ने इन सभी खिलाड़ियों को एक भारतीय रेस्टोरेंट पर ड्रॉप किया.

Source: pakpassion

जब सभी खिलाड़ी उतरे तो वो टैक्सी ड्राइवर को पैसे देने लगे, लेकिन उसने पैसे लेने से इंकार कर दिया. टैक्सी ड्राइवर ने पैसे नहीं लिए तो इन खिलाड़ियों ने भी दरियादिली दिखाते हुए उसे साथ में लंच पर चलने को कहा. इसके बाद पाकिस्तानी क्रिकेटरों ने भारतीय ड्राइवर को अपने साथ डिनर कराया और साथ में सेल्फ़ी भी ली.

Source: pakpassion

दरअसल, इस घटना की जानकारी ABC रेडियो की प्रेजेंटर एलिसन मिशेल ने दी. ब्रिसबेन में ऑस्ट्रेलिया-पाकिस्तान के बीच खेले गए पहले टेस्ट मैच के दौरान एलिसन ने पूर्व ऑस्ट्रेलियाई तेज़ गेंदबाज़ मिशेल जॉनसन कहानी साझा की. इस पर मिशेल जॉनसन ने भी पाकिस्तानी खिलाड़ियों की तारीफ़ की.

Source: khabarsbollywood

इस दौरान एलिसन कहती हैं कि' आज सुबह मुझे एक दिलचस्प कहानी सुनने को मिली. जिस टैक्सी ड्राइवर ने मुझे होटल से ग्राउंड छोड़ा वो भारतीय थे. इस दौरान उन्होंने मुझे बताया कि कुछ दिन पहले वो पाकिस्तानी खिलाड़ियों को छोड़ने एक इंडियन रेस्टोरेंट गए थे. जब उन्होंने खिलाड़ियों से पैसे लेने से इंकार किया तो पाकिस्तानी खिलाड़ी उन्हें दीनार पर ले गए. इस दौरान टैक्सी ड्राइवर ने मुझे अपने फ़ोन पर इसकी कई तस्वीरें भी दिखाई. वो बेहद ख़ुश नज़र आ रहे थे.

ABC नेटवर्क ने ख़ुद इस वाक़ये को अपने ऑफ़िशियल ट्विटर हैंडल पर शेयर किया है. वीडियो शेयर करते हुए ABC ने लिखा, 'भारतीय टैक्सी ड्राइवर और पांच पाकिस्तानी खिलाड़ियों की दिलकश कहानी.