धोनी एक ऐसे क्रिकेटर हैं, जिन्होंने क्रिकेट के तीनों फ़ॉरमेट में भारत को विजय दिलाकर, पूरे वर्ल्ड में देश का नाम रौशन किया है. जिस झारखंड को दुनिया आज तक माओवादियों के गढ़ के रूप में जानती थीं, उसे किसी अच्छे कारण के लिए फ़ेमस किया है एम. एस धोनी ने. आज दुनियाभर में लोग झारखंड को क्रिकेट के सबसे कूल कप्तान धोनी के घर के रूप में पहचानने लगे हैं.

Source: Sportskeeda

अब झारखंड की बारी है उन्हें कुछ देने की. इसके लिए झारखंड स्टेट क्रिकेट एसोसिएशन(JSCA) ने एक फ़ैसला लिया है. वो बहुत जल्द रांची के क्रिकेट स्टेडियम में उनके नाम से एक स्टैंड बनाने जा रही है.

JSCA के अनुसार, रांची स्टेडियम के साउथ स्टैंड एम एस धोनी पवेलियन के नाम से जाना जाएगा. इसके लिए प्ले कार्ड अभी से इंस्टाल कर दिया गया है. बस इसकी अधिकारिक घोषणा होना बाकी है. इससे पहले ये उपलब्धि सिर्फ़ 5 भारतीय क्रिकेटरों के नाम रही है.

मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में सचिन तेंदुलकर, सुनील गावस्कर और विजय मर्चेंट पवेलियन. दिल्ली के फ़िरोज़शाह कोटला में सहवाग पवेलियन. वहीं बंगाल के इडन गार्डन में गांगूली पवेलियन.

झारखंड की माटी में जन्मा ये लाल यानी एम. एस धोनी दुनिया के बेस्ट क्रिकेटर्स में से एक हैं. झारखंड सरकार उन्हें पहले ही झारखंड रत्न अवॉर्ड से सम्मानित कर चुकी है. इसके अलावा भारत सरकार भी उन्हें क्रिकेट में अतुल्नीय योगदान के लिए देश के तीसरे सबसे बड़े सम्मान पद्मभूषण से सम्मानित कर चुकी है.

वेल डन धोनी! हमें आप पर गर्व है.