भारत ने साल 2012 में उन्मुक्त चंद की कप्तानी में 'अंडर-19 वर्ल्ड कप' जीता था. ऑस्ट्रेलिया में खेले गए इस टूर्नामेंट में भारतीय जूनियर टीम ने शानदार प्रदर्शन करते हुए लगातार दूसरी बार 'अंडर-19 वर्ल्ड कप' जीता. इससे पहले भारत साल 2008 में विराट कोहली की कप्तानी में 'अंडर-19 वर्ल्ड कप' जीता था.

Source: cricketcountry

उन्मुक्त चंद की कप्तानी में भारत ने फ़ाइनल मुक़ाबले में ऑस्ट्रेलिया को 6 विकेट से मात दी थी. ऑस्ट्रेलिया ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए भारत को 226 रनों का टारगेट दिया. जवाब में भारत उन्मुक्त चंद की 111 रनों की शानदार शतकीय पारी के दम पर मैच 6 विकेट से जीतकर तीसरी बार वर्ल्ड चैंपियन बना.

Source: rediff

हालांकि, अब तक इस चैंपियन टीम के सिर्फ़ दो सदस्य ही इंडिया में जगह बना पाए हैं, लेकिन ख़ुद कप्तान और फ़ाइनल मैच के हीरो उन्मुक्त चंद आज भी टीम इंडिया में जगह बनाने की कोशिश में लगे हुए हैं.

Source: rediff

तो चलिए क्यों न आज उन्मुक्त चंद की उस विश्व विजेता टीम के अन्य सदस्यों की ख़बर भी ले लेते हैं-

1- उन्मुक्त चंद (कप्तान)

उन्मुक्त चंद ने फ़ाइनल में ऑस्ट्रेलिया के ख़िलाफ़ 7 चौके और 6 छक्कों की मदद से 130 गेंदों पर 111 शतकीय पारी खेली थी. उन्मुक्त एक समय में भारत के उभरते क्रिकेटर माने जाते थे, लेकिन लगातार ख़राब फ़ॉर्म के चलते वो पहले IPL फिर दिल्ली की टीम से बाहर कर दिए गए. अब उन्मुक्त उत्तराखंड की टीम से खेल रहे हैं.

Source: cricketcountry

2- अक्षदीप नाथ (उपकप्तान)

अक्षदीप नाथ इस चैंपियन टीम के प्रमुख बल्लेबाज़ थे. अक्षदीप वर्तमान में यूपी के लिए घरेलू क्रिकेट खेलते हैं. IPL में वो विराट की 'रॉयल चैलेंजर्स बंगलौर' से खेलते हैं.

Source: cricketaddictor

3- समित पटेल (विकेटकीपर)

समित इस चैंपियन टीम में विकेटकीपर बल्लेबाज़ के तौर पर खेले थे. इस दौरान उनका प्रदर्शन शानदार रहा. फ़ाइनल मुक़ाबले में उन्होंने कप्तान के साथ 62 रनों की शानदार पारी खेलकर टीम को जीत दिलाई थी. समित वर्तमान में गुजरात के लिए घरेलू क्रिकेट खेलते हैं.

Source: indianwonderland

4- हनुमा बिहारी

हनुमा बिहारी इस टीम के प्रमुख बल्लेबाज़ थे. हनुमा वर्तमान में भारतीय टेस्ट टीम के अहम बल्लेबाज़ हैं. वो अब तक भारत के लिए 7 टेस्ट खेल चुके हैं. इस वो 1 शतक और 3 अर्धशतक के दम पर 42.36 की शानदार औसत से 466 बना चुके हैं.

Source: indianwonderland

5- संदीप शर्मा

संदीप शर्मा इस चैंपियन टीम के प्रमुख तेज़ गेंदबाज़ थे. फ़ाइनल मुक़ाबले में उन्होंने 4 विकेट चटकाए थे. संदीप भारत के लिए 2 टी20 मैच खेल चुके हैं. संदीप घरेलू क्रिकेट में हर साल पंजाब के लिए शानदार प्रदर्शन करते आ रहे हैं.

Source: indianwonderland

6- बाबा अपराजित

बाबा अपराजित इस चैंपियन टीम में बैटिंग ऑलराउंडर के तौर पर खेले थे. इस टूर्नामेंट में शानदार खेले थे. बाबा वर्तमान में तमिलनाडु के लिए घरेलू क्रिकेट खेलते हैं. घरेलू क्रिकेट में लगातार शानदार प्रदर्शन करने वाले बाबा टीम इंडिया में जगह बनाने के प्रमुख दावेदार हैं.

Source: timesofindia

7- प्रशांत चोपड़ा

हिमाचल के प्रशांत चोपड़ा इस टीम में ओपनर के तौर पर खेले थे. इस दौरान उनका प्रदर्शन भी शानदार रहा. हिमाचल के लिए घरेलू क्रिकेट खेलने वाले प्रशांत IPL में 'राजस्थान रॉयल्स' के लिए खेलते हैं.

Source: panchayattimes

8- विजय ज़ोल

विजय ज़ोल इस चैंपियन टीम में मिडिल आर्डर बल्लेबाज़ के तौर पर खेले थे. इस दौरान उनका प्रदर्शन कुछ ही मैचों में अच्छा रहा. विजय वर्तमान महाराष्ट्र की घरेलू क्रिकेट से खेलते हैं. जबकि IPL में 'रॉयल चैलेंजर्स बंगलौर' के लिए खेलते हैं.

9- हरमीत सिंह

हरमीत सिंह इस चैंपियन टीम के प्रमुख स्पिनर थे. वर्तमान में त्रिपुरा के लिए घरेलू क्रिकेट क्रिकेट खेलते हैं. हरमीत IPL में 'राजस्थान रॉयल्स' के लिए खेलते हैं.

Source: indianwonderland

10- रूश कलारिया

रूश कलारिया इस चैंपियन टीम के प्रमुख ऑलराउंडर थे. गुजरात के लिए घरेलू क्रिकेट खेलने वाले रूश इन दिनों शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं. इस बार उनके IPL में चुने जाने की पूरी संभावना है.

Source: indianwonderland

11- रविकांत सिंह

रविकांत इस टीम के प्रमुख तेज़ गेंदबाज़ थे. इस दौरान उनका प्रदर्शन रहा. लेकिन इसका फ़ायदा उन्हें घरेलू क्रिकेट में नहीं मिला. वो अब तक बंगाल के लिए सिर्फ़ 1 फ़र्स्ट क्लास मैच ही खेल पाए हैं.

Source: indianwonderland

12- अखिल हेरवाड़कर

अखिल इस चैंपियन टीम में प्रशांत और उन्मुक्त के बाद तीसरे ओपनर के तौर पर खेले थे. वर्तमान में वो मुंबई के लिए घरेलू क्रिकेट खेलते हैं. अखिल IPL में 'दिल्ली डेयरडेविल्स' के लिए खेल चुके हैं.

Source: cricketgraph

13- कमाल पासी

पासी भी इस टीम के प्रमुख तेज़ गेंदबाज़ थे. इस दौरान उनका प्रदर्शन शानदार रहा. लेकिन इसका फ़ायदा उन्हें घरेलू क्रिकेट में नहीं मिला. वो अब तक पंजाब के लिए सिर्फ़ 4 फ़र्स्ट क्लास मैच ही खेल पाए हैं.

Source: indianwonderland

14- विकास मिश्रा

विकास इस चैंपियन टीम में स्पिनर के तौर पर खेले थे. इस दौरान उन्हें कम ही मौके मिले. वर्तमान में वो दिल्ली के लिए घरेलू क्रिकेट खेलते हैं. विकास घरेलू क्रिकेट में शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं.

Source: indianwonderland

15- संदीपन दास

मीडियम गति के इस गेंदबाज़ को कम ही मौके मिले थे. वर्तमान में वो बंगाल के लिए घरेलू क्रिकेट खेलते हैं.

Source: indianwonderland

जबकि मनन बोहरा और मोहसिन सैय्यद Withdrawn Player के तौर पर इस चैंपियन टीम का हिस्सा थे.

अगर क्रिकेट से जुड़ी ऐसी ही ख़बरें आपके पास भी हैं तो हमारे साथ शेयर करें.