चाहे वो अश्विन का 'Mankad' आउट हो, या कोहली का मैच रैफ़री को गरियाना, या फिर पंत का 'अगला चौका है' वाक़या, आईपीएल-12 अपने शुरुआती दौर से ही सुखियों में है.

Source: tentaran

खासकर अश्विन के 'Mankad' के ज़रिये जोस बटलर को आउट करने वाले वाक़ये ने उन्हें विलेन ही बना दिया था. बीते शनिवार को मोहाली में 'मुंबई इंडियन्स' और 'किंग्स इलेवन पंजाब' के बीच खेले गए एक मुक़ाबले में भी कुछ इसी तरह का नज़ारा देखने को मिला. पिछली बार की तरह ही इस बार भी मैदान पर 'किंग्स इलेवन पंजाब' की टीम थी.

Source: crictracker

ये वाक़या दूसरी पारी का है, जब पंजाब की टीम बल्लेबाज़ी कर रही थी. पंजाब की इनिंग्स का 9वां ओवर फ़ेंक रहे थे क्रुनाल पंड्या. क्रुनाल जब अपने ओवर की चौथी गेंद फेंकने आये, तो उनके सामने थे के.एल. राहुल, जबकि नॉन-स्ट्राइकिंग एंड पर मयंक अग्रवाल खड़े थे. क्रुनाल ने जैसे ही गेंद फ़ेंकने के लिए हाथ घुमाया, वो रुक गए क्योंकि मयंक अग्रवाल क्रीज़ से बाहर निकल चुके थे.

क्रुनाल के पास मयंक अग्रवाल को 'Mankad' करने का सुनहरा मौका था, लेकिन उन्होंने ऐसा नहीं किया. हालांकि मयंक को डराने के लिए वो विकेट की ओर लपके, लेकिन आउट नहीं किया.

Source: sportskeeda

क्रुनाल पंड्या ने ऐसा करके 'किंग्स इलेवन पंजाब' को क्रिकेट सच्ची खेल भावना के साथ खेलने की सीख दे डाली. क्रुनाल ने दिखा दिया कि 'हार' मंज़ूर है लेकिन 'खेल भावना की हार' मंज़ूर नहीं.

इस मुक़ाबले में 'मुंबई इंडियन्स' ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए 'किंग्स इलेवन पंजाब' को 177 रन का टारगेट दिया. जवाब में पंजाब ने केएल राहुल के नाबाद 71 रन, मयंक अग्रवाल 43 रन और क्रिस गेल के 40 रनों की बदौलत मुंबई को 8 विकेट से करारी शिकस्त दी.