किसी भी खिलाड़ी के लिए अपने देश के लिए खेलना गर्व की बात होती है. देश की ख़ातिर खिलाड़ी अपना सब कुछ झोंक देते हैं. यहां तक कि कभी-कभी तो वो अपनों का दुःख भी भूल जाते हैं.

Source: wahcricket

ऐसा ही कुछ पाकिस्तान की वर्ल्ड कप टीम में शामिल किये गए बल्लेबाज़ आसिफ़ अली के साथ भी हुआ है. आसिफ़ ने हाल ही में अपनी 2 साल की बेटी को खोया है. जिस वक़्त बेटी कैंसर से जूझ रही थी, आसिफ़ उस वक़्त इंग्लैंड के ख़िलाफ़ वनडे सीरीज़ खेल रहे थे.

Source: samacharnama

दरअसल, आसिफ़ की 2 साल की बेटी नूर फ़ातिमा पिछले काफ़ी समय से चौथे स्टेज के कैंसर से जूझ रही थीं. कुछ दिनों पहले ही अमेरिका में इलाज़ के दौरान उनका निधन हो गया.

Source: thelallantop

इस कठिन समय में भी आसिफ़ ने अपना संयम नहीं खोया और वो देश के लिए क्रिकेट खेलते रहे. 20 मई को बेटी के निधन से ठीक एक दिन पहले आसिफ़ ने इंग्लैंड के ख़िलाफ़ खेले गए आख़री वनडे में 22 रनों की पारी खेली थी.

Source: cricketcountry

5 मैचों की इस सीरीज़ में 27 वर्षीय आसिफ़ अली सभी मैचों में खेले थे. इस दौरान उन्होंने 2 अर्धशतकों के साथ कुल 142 रन बनाए. इसी प्रदर्शन के आधार पर सोमवार को उन्हें वर्ल्ड कप की टीम में जगह मिली थी. इस दुःखद ख़बर के बाद आसिफ़ अमेरिका के लिए रवाना हो गए.

आसिफ़ अली के इस जज़्बे के लिए हर कोई उनकी तारीफ़ कर रहा है.

पाकिस्तान सुपर लीग में आसिफ़ अली की टीम 'इस्लामाबाद युनाइटेड' ने ट्वीट कर कहा है, इस्लामाबाद युनाइटेड परिवार की संवेदनाएं आसिफ़ के साथ हैं, जिसने अपनी बेटी को खो दिया. आसिफ़ काफी मजबूत हैं और हम सभी के लिए प्रेरणा हैं.

इससे पहले आसिफ़ अली ने 22 अप्रैल को ट्वीट कर बताया था कि उनकी बेटी कैंसर से पीड़ित है और उसका अमेरिका में इलाज चल रहा है.

आसिफ़ अली के सहस और जज़्बे को हमारा सलाम.