रविचंद्रन अश्विन पिछले कुछ सालों से भारतीय वनडे और T-20 टीम में जगह नहीं बना पा रहे हैं. आईपीएल में वो 'किंग्स इलेवन पंजाब' के कप्तान के तौर पर खेल रहे हैं, लेकिन लगता है इन दिनों उनका भाग्य उनके साथ नहीं है.

Source: tribuneindia

25 मार्च को जयपुर के सवाई मान सिंह स्टेडियम में 'किंग्स इलेवन पंजाब' और 'राजस्थान रॉयल्स' के बीच आईपीएल का चौथा मैच खेला गया. इस मैच में जीत 'किंग्स इलेवन पंजाब' की हुई, लेकिन अश्विन इस जीत में हीरो बनने के बजाए विलन बन गए.

Source: independent

अश्विन ने 'राजस्थान रॉयल्स' के धाकड़ बल्लेबाज़ जोस बटलर को 'Mankad' कर दिया. इस कारण 'राजस्थान रॉयल्स' जीता जिताया मैच हार गया. बस यहीं से अश्विन न सिर्फ़ मैच के, बल्कि फ़ैंस और क्रिकेट एक्सपर्ट की नज़रों में भी विलन बन बैठे.

Source: kxip.in

वो कहते हैं न कि इंसान के कर्म उसे सबक ज़रूर सिखाते हैं. अश्विन के साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ. सिर्फ़ दो दिन बाद ही अश्विन को एक ऐसी हार मिली जिसकी उन्होंने कल्पना भी नहीं की होगी.

Source: cricwizz

27 मार्च को कोलकाता के ईडन गार्डन्स में 'किंग्स इलेवन पंजाब' और 'कोलकाता नाइट राइडर' के बीच खेले गए मुक़ाबले में अश्विन की टीम को करारी हार झेलनी पड़ी. हार भी ऐसी कि 'KKR' ने आख़िरी के 4 ओवर में मैच का पासा ही पलटकर रख दिया.

Source: gqindia

दरअसल, हुआ यूं कि 'KKR' 16 ओवरों में 3 विकेट खोकर 153 रन बना चुका था. क्रीज़ पर रॉबिन उथप्पा और आंद्रे रसेल मौजूद थे. मोहम्मद शमी पारी का 17वां ओवर लेकर आए और सामने आंद्रे रसेल 2 गेंदों पर 1 रन बनाकर खेल रहे थे. तभी 17वें ओवर की आख़िरी गेंद पर शमी ने सटीक यॉर्कर से रसेल को क्लीन बोल्ड कर दिया. पंजाब की टीम जश्न मना ही रही थी कि अंपायर ने इसे नो बॉल करार दे दिया.

Source: timesnownews

टेक्निकली देखें तो शमी का पैर क्रीज़ के अंदर ही था, लेकिन अंपायर ने फिर भी नो बॉल दे दी. बस फिर क्या था पंजाब के कप्तान अश्विन अंपायर पर गुस्सा करने लगे. इतने में अंपायर ने अश्विन की तरफ़ दो उंगली खड़ी करके इशारा किया कि उनके सिर्फ़ 2 फ़ील्डर ही 30 गज के सर्किल के अंदर हैं, जबकि क़ायदे से 3 होने चाहिए थे.

Source: moneycontrol

17वें ओवर की समाप्ति तक आंद्रे रसेल 4 गेंदों में 4 रन बनाकर खेल रहे थे. इसके बाद रसेल नाम के तूफ़ान में 'किंग्स इलेवन पंजाब' की टीम उड़ गई. रसेल ने अगली 13 गेंदों में 44 रन ठोक डाले.

Source: amarujala

देखा जाए तो, पूरी ग़लती इस मैच में डेब्यू कर रहे वरुण चक्रवर्ती और हार्डस विलजोएन की थी, जिसकी सज़ा अश्विन को मिली. ये दोनों खिलाड़ी फ़ील्ड चेंज के दौरान 30 गज के सर्किल के अंदर नहीं आ पाए थे. वरुण चक्रवर्ती वही खिलाड़ी हैं जिनको पंजाब की टीम ने 8.4 करोड़ की मोटी रकम में ख़रीदा है.