द वॉल, मिस्टर डिपेंडेबल और मिस्टर कूल अपनी शानदार बल्लेबाज़ी के लिए मशहूर राहुल द्रविड़ को हम इन्हीं नामों से जानते हैं. पिच पर टिक कर खेलने की उनकी ख़ूबी से तो आप सब वाक़िफ़ ही होंगे. लेकिन आपको ये जान कर अचरज होगा कि उनके 14 साल के बेटे समित भी अब उन्हीं की राह पर चल पड़े हैं. 

Source: theweek

पूर्व भारतीय कप्तान राहुल द्रविड़ जहां संन्यास के बाद इन दिनों बेंगलुरु स्थित 'नेशनल क्रिकेट एकेडमी' का ज़िम्मा संभाल रहे हैं. वहीं उनके बेटे समित लगातार क्रिकेट की नई ऊंचाइयों को छू रहे हैं.   

Source: intoday

दरअसल, राहुल द्रविड़ के बेटे समित ने अंडर-14 क्रिकेट में दूसरी बार शानदार दोहरा शतक जड़ संकेत दे दिए हैं कि आने वाले कुछ सालों में टीम इंडिया को 'द वॉल पार्ट 2' मिलने जा रहा है. ख़ास बात ये रही कि समित ने दो महीने से भी कम समय में दूसरा दोहरा शतक ठोककर कमाल कर दिया है. 

समित ने खेली नाबाद 211 रनों की पारी 

समित द्रविड़ ने अंडर-14 ग्रुप I, डिविजन II के 'बीटीआर शील्ड टूर्नामेंट' में अपने करियर का दूसरा दोहरा शतक लगाया है. समित ने 'माल्या अदिति इंटरनेशनल स्कूल' की ओर से खेलते हुए 26 चौकों और 1 छक्के की मदद से 144 गेंदों पर नाबाद 211 रनों की पारी खेली. समित की इस शानदार पारी की बदौलत उनकी टीम ने 50 ओवरों में 3 विकेट खोकर 386 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया. 

Source: amarujala

जवाब में 'बीजीएस नेशनल पब्लिक स्कूल' की टीम 50 ओवरों में 3 विकेट खोकर सिर्फ़ 254 रन ही बना पायी. इस तरह समित की टीम 'माल्या अदिति इंटरनेशनल स्कूल' ने ये मैच 132 रनों से जीत लिया. समित ने इस मैच में गेंदबाज़ी करते हुए 2 विकेट भी झटके. 

Source: navbharattimes

ये पहला मौका नहीं है जब समित द्रविड़ ने दोहरा शतक लगाया है. दिसंबर 2019 में समित ने 'वाइस प्रेसीडेंट्स इलेवन' के लिए खेलते हुए 'धारवाड़ जोन' के ख़िलाफ़ खेले गए मुकाबले में 256 गेंदों पर 201 रन की पारी खेली थी. इस मैच की दोनों परियों में उन्होंने कुल 295 रन बनाये और 3 विकेट भी झटके थे. ये मुक़ाबला 'अंडर-14 इंटर जोनल टूर्नामेंट' के तहत खेला गया था. 

Source: amarujala

समित पहली बार सुर्ख़ियों में उस वक़्त सुर्खियां में आए थे जब उन्होंने 'टाइगर कप टूर्नामेंट' के दौरान महज़ 12 साल की उम्र में 'फ़्रैंक एंटनी पब्लिक स्कूल' के ख़िलाफ़ 125 रनों की दमदार पारी खेली थी.