भारतीय टीम के पूर्व कप्तान सौरभ गांगुली BCCI के अगले अध्यक्ष होंगे. दादा क्रिकेट में अपनी नई पारी के लिए तैयार हैं. इस पद पर चुने जाने की ख़बर रविवार रात ही पक्की हो गई थी. जबकि सोमवार को BCCI के पूर्व अध्यक्ष राजीव शुक्ला ने इसकी घोषणा की.

Source: starsunfolded

हालांकि, गांगुली सितंबर-2020 तक यानि कि सिर्फ़ 10 महीनों के लिए इस पद पर रहेंगे. इसके बाद वो बोर्ड के नए नियम के तहत कूलिंग ऑफ़ पीरियड पर चले जाएंगे. 23 अक्टूबर को प्रशासकों की समिति (सीओए) BCCI के नए अधिकारियों को कार्यभार सौंपेगी.

Source: In.com

इस दौरान गांगुली का निर्विरोध BCCI का अगला अध्यक्ष चुना जाना तय है. महिम वर्मा उपाध्यक्ष होंगे. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के बेटे जय शाह BCCI के अगले सचिव होंगे. जबकि जयेश जॉर्ज संयुक्त सचिव और अरुण धूमल कोषाध्यक्ष होंगे. वहीं बृजेश पटेल का अगला आईपीएल चेयरमैन बनना तय है.

मंगलवार को गांगुली ने अपनी इस नई टीम के सदस्यों के साथ एक तस्वीर साझा की. तस्वीर में उनके साथ जय शाह, जयेश जॉर्ज, अरुण धुमल और महिम वर्मा हैं. इस तस्वीर में गांगुली के साथ BCCI के पूर्व अध्यक्ष अनुराग ठाकुर भी मौजूद हैं.

सौरव गांगुली को टीम इंडिया के सबसे आक्रामक कप्तानों में गिना जाता है. उन्होंने साल 2000 में मैच फ़िक्सिंग विवाद के बाद पूर्व कप्तान मोहम्मद अज़हरुद्दीन की जगह कप्तानी का भार संभाला था. 19 साल बाद गांगुली को अब BCCI अध्यक्ष की ज़िम्मेदारी मिली है. पिछले कुछ सालों से अनियमितताओं की वजह से BCCI लगातार सवालों के घेरे में है.

Source: in.com

सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित प्रशासकों की समिति (सीओए) लगातार BCCI को निर्देश देती है. इस दौरान कई बातों को लेकर बोर्ड और सीओए के बीच आपसी सहमति नहीं बन बाती है. अध्यक्ष के तौर पर गांगुली के लिए ये एक बड़ी चुनौती भी है.

Source: bhaskar

BCCI अध्यक्ष पद के लिए चुने जाने के बाद गांगुली ने कहा, 'ये मेरे लिए कुछ अच्छा करने का शानदार मौका है. मैं ऐसे समय में इस कुर्सी पर बैठ रहा हूं, जब बोर्ड की छवि लगातार ख़राब हो रही है. मैं देश के लिए खेला और कप्तानी की. मेरे लिए कुछ कर दिखाने का ये सही मौका है.

Source: crictracker
‘मुझे रविवार रात 10:30 तक नहीं पता था कि मैं अध्यक्ष बनने वाला हूं. मैं इस जिम्मेदारी को निभाने के लिए तैयार हूं. 10 महीने के छोटे से कार्यकाल में मेरी पहली प्राथमिकता प्रथम श्रेणी क्रिकेटरों की देखभाल करना प्रमुख होगा. भारतीय क्रिकेट में सभी हितधारकों से मिलने की योजना है. मैं कुछ ऐसा करना चाहता हूं जो सीओए ने 33 महीनों तक नहीं किया'.
Source: sify

गांगुली BCCI के ऐसे पहले अध्यक्ष होंगे, जिनके पास 400 से ज़्यादा अंतरराष्ट्रीय मैचों का अनुभव हैं. गांगुली से पहले 1954 से 1956 तक 3 टेस्ट खेलने वाले महाराजकुमार ऑफ़ विजयनगरम (विजय आनंद गणपति राजू) ही BCCI के अध्यक्ष रह चुके हैं. हालांकि, 233 अंतरराष्ट्रीय मैच खेलने वाले सुनील गावस्कर और 42 मैच खेलने वाले शिवलाल यादव ने भी बोर्ड का नेतृत्व किया, लेकिन दोनों 2014 में कुछ समय के लिए अंतरिम अध्यक्ष ही थे.

Source: cricket

47 वर्षीय गांगुली वर्तमान में पिछले 5 सालों से 'बंगाल क्रिकेट एसोसिएशन' के अध्यक्ष हैं. अब दादा करीब 12 हज़ार करोड़ रुपए नेटवर्थ वाली BCCI की बागडोर संभालेंगे.

गांगुली के BCCI अध्यक्ष चुने जाने के बाद सोशल मीडिया पर मिल रही बधाई मिल रही है.