क्रिकेट को रोमांच और अनिश्चितताओं का खेल कहा जाता है. गेम कब किस पाले में चली जाए कुछ कहा नहीं जा सकता. क्रिकेट का यही रोमांच फ़ैंस की हार्ट बीट्स को तेज़ करने का काम करता है. क्रिकेट इतिहास में कई ऐसे मुक़ाबले हुए हैं जब मैदान पर फ़ैंस का जोश देखने लायक था. इन्हें में से कुछ मुक़ाबले ऐसे थे जिन्हें फ़ैंस शायद ही कभी भूल पाए.

आज हम आपको भारतीय क्रिकेट इतिहास के ऐसे 10 वनडे मैचों के बारे में बताने जा रहे हैं जिन्होंने भारतीय क्रिकेट को एक नईं पहचान दी-

1- भारत बनाम वेस्टइंडीज़ (1983 वर्ल्ड कप, फ़ाइनल)

साल 1983 वर्ल्ड कप की जीत भारतीय क्रिकेट इतिहास की सबसे सुनहरी यादों में से एक है. भारत ने फ़ाइनल में 183 रनों का बचाव करते हुए वेस्टइंडीज़ जैसी मज़बूत टीम को 43 रनों से हराकर पहली बार वर्ल्ड कप जीता था.

Source: sportskeeda

2- भारत बनाम पाकिस्तान (वर्ल्ड चैंपियनशिप, फ़ाइनल)

साल 1985 में Benson & Hedges World Championship of Cricket के फ़ाइनल में टीम इंडिया ने पाकिस्तान के ख़िलाफ़ शानदार जीत हासिल की थी. 1983 वर्ल्ड कप के बाद ये भारत की दूसरी बड़ी जीत थी. फ़ाइनल में पाकिस्तान के 176 रनों के जवाब में भारत ने 2 विकेट खोकर आसानी से जीत हासिल कर ली थी.

Source: sportskeeda

3- भारत बनाम वेस्टइंडीज़ (हीरो कप, फ़ाइनल)

साल 1993, भारत ने हीरो कप के फ़ाइनल में वेस्टइंडीज़ को करारी शिकस्त दी थी. फ़ाइनल में भारत ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए 225 रन बनाए. जवाब में वेस्टइंडीज़ की टीम महज़ 123 रनों पर सिमट गई. इस मैच में अनिल कुंबले ने 6 ओवरों में 12 रन देकर 6 विकेट चटकाए थे.

Source: cricwizz

4- भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया (कोका कोला ट्रॉफ़ी, सेमीफ़ाइनल)

साल 1998 में शारजाह में खेले गए 'कोका कोला ट्रॉफ़ी' के सेमीफ़ाइनल में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को शिकस्त देकर फ़ाइनल में जगह बनाई थी. ये मैच खासकर सचिन तेंदुलकर की 143 रनों की धुंआधार पारी के लिए भी जाना जाता है. भारत ने फ़ाइनल में एक बार फिर ऑस्ट्रेलिया को हराकर 'कोका कोला ट्रॉफ़ी' जीती थी.

Source: sportskeeda

5- भारत बनाम इंग्लैंड (नेटवेस्ट सीरीज़, फ़ाइनल)

साल 2002, इंग्लैंड के लॉर्ड्स क्रिकेट ग्राउंड पर खेले गए नेटवेस्ट सीरीज़ के फ़ाइनल में भारतीय टीम ने एक रोमांचक मुक़ाबले में इंग्लैंड को हराकर ऐतिहासिक जीत हासिल की थी. इंग्लैंड के 325 रनों के विशाल स्कोर का पीछा करते हुए भारत ने युवराज (69) और कैफ़ (87) की शानदार पारियों के दम पर 3 गेंद शेष रहते ही मैच जीत लिया.

Source: india

6- भारत बनाम पाकिस्तान (सैमसंग कप, फ़ाइनल)

साल 2004, भारतीय टीम पाकिस्तान दौरे पर थी. 5 मैचों की वनडे सीरीज़ में दोनों टीमें 2-2 की बराबरी पर थे. लाहौर में खेले गए फ़ाइनल मुक़ाबले में भारत ने लक्ष्मण की 107 रनों की पारी के दम पर पाकिस्तान को 294 रनों का टारगेट दिया. पठान और बालाजी की शानदार गेंदबाज़ी के दम पर भारत ने मुक़ाबला 40 रनों से जीता था.

Source: sportskeeda

7- भारत बनाम ऑस्ट्रेलिया (सीबी सीरीज़, फ़ाइनल)

साल 2008, ऑस्ट्रेलिया में खेली गयी 'सीबी सीरीज़' के दौरान टीम इंडिया 1-0 की बढ़त बनाये हुए थी. ब्रिस्बेन में खेले गए दूसरे फ़ाइनल में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को 9 रनों से शिकस्त देकर पहली बार ऑस्ट्रेलिया में कोई त्रिकोणीय सीरीज़ जीती थी.

Source: sportskeeda

8- भारत बनाम पाकिस्तान (वर्ल्ड कप, सेमीफ़ाइनल)

साल 2011 वर्ल्ड कप के सेमीफ़ाइनल में भारत और पाकिस्तान की टीमें आपस में भिड़ी थीं. टीम इंडिया ने पहले बल्लेबाज़ी करते हुए 260 रन बनाए. जवाब में पाकिस्तान की पूरी टीम 231 रनों पर सिमट गयी. इस जीत के साथ ही भारत ने तीसरी बार वर्ल्ड कप फ़ाइनल में जगह बनाई.

Source: amarujala

9- भारत बनाम श्रीलंका (2011 वर्ल्ड कप, फ़ाइनल)

साल 2011 वर्ल्ड कप के फ़ाइनल में श्रीलंका को शिकस्त देकर भारत 28 साल बाद एक बार फिर वर्ल्ड चैंपियन बना. श्रीलंका के 274 रनों के जवाब में भारत गंभीर 97 और धोनी के 91 रनों की शानदार पारियों के दम पर दूसरी बार वर्ल्ड चैंपियन बना.

Source: sportskeeda

10- भारत बनाम इंग्लैंड (चैंपियंस ट्रॉफ़ी, फ़ाइनल)

साल 2013 में इंग्लैंड में खेली गयी 'चैंपियंस ट्रॉफ़ी' का चैंपियन भारत बना था. साल 2011 वर्ल्ड कप के बाद ये भारत की दूसरी सबसे बड़ी जीत थी. फाइनल में भारत ने एक रोमांचक मुक़ाबले में मात्र 129 रनों के मामूली स्कोर का बचाव करते हुए इंग्लैंड को 5 रनों से शिकस्त दी थी.

Source: dnaindia

आपकी नज़र में भारतीय क्रिकेट इतिहास की सबसे शानदार वनडे जीत कौन सी थी?