क्रिकेट के दीवानों के लिए आज का दिन ख़ास है. आज चेन्नई सुपर किंग्स और दिल्ली कैपिटल्स दूसरे क्वालिफ़ायर में एक-दूसरे से भिड़ेने वाली हैं. आज किसी एक टीम की महीनेभर से चल रही लंबी कोशिश मंज़िल से एक कदम की दूरी पर दम तोड़ देगी.

Source: APN Live

एक तरफ़ है तजुर्बे से लबरेज़ महेंद्र सिंह धोनी की चेन्नई सुपर किंग्स, तो दूसरी ओर है श्रेयस अय्यर की जोश से भरपूर युवा टीम. इससे पहले चेन्नई और दिल्ली की टीम 20 मौकों पर एक दूसरे से भिड़ चुकी हैं, जिसमें 14 मैच चेन्नई ने तो 6 मैच दिल्ली ने जीते हैं. सिर्फ़ इस IPL की बात करें, दोनों मैच में चेन्नई ने जीत दर्ज की है.

Source: Rediff.com

लेकिन पुरानी बातों को भूल जाइए, आज का मैच अलग है. दोनों मैच हारने के बावजूद काग़ज़ पर दिल्ली की टीम चेन्नई पर भारी लग रही है. ये IPL है, यहां कभी-कभी एक प्लेयर पूरी टीम पर भारी पड़ जाता है. इसी सीज़न में हमने ऐसे कई उदाहरण देखे हैं.

आंकड़ों की नज़र से देखते हैं कि आज के मैच में वो कौन से दो प्लेयर होंगे, जो विपक्षी खेमे को नेस्तनाबूद करने का दमखम रखते हैं.

ऋषभ पंत (दिल्ली कैप्टिल्स)

दिल्ली की टीम काफ़ी संतुलित है, इसका हर खिलाड़ी किसी न किसी मौके पर टीम के लिए अंत तक लड़ा है. शिखर धवन, पृथ्वी शॉ और श्रेयस अय्यर जैसे भरोसेमंद बल्लेबाज़ होने के बावजूद विपक्षी टीम ऋषभ पंत को लेकर चिंतित रहती है. इस ताबड़तोड़ विकेट-कीपर बल्लेबाज़ ने कई मौकों पर जीत को विरोधी के मुंह से छीना है. एलिमिनेटर राउंड में ही सबने उनका जलवा देखा, जब 21 गेंदो में उन्होंने ज़रूरी 49 रन बनाए.

Source: India Today

इस IPL में ऋषभ ने 37.50 की औसत और 163.63 की औसत से कुल 450 रन बनाए हैं. विकेट के पीछ रहते हुए भी उन्होंने कई कारनामे किए हैं. इस IPL में उन्होंने 18 कैच लिए और 6 स्टंप किए हैं. चेन्नई के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने इस खिलाड़ी के लिए अलग से प्लानिंग ज़रूर की होगी.

इमरान ताहिर (चेन्नई सुपर किंग्स)

इस सीज़न में चेन्नई का बल्लबाज़ों का विभाग कमज़ोर रहा है. शैन वॉटसन, सुरेश रैना, अंबाती रायडु के बल्लों से कुछ ख़ास धमाल देखने को नहीं मिला. कई मौकों पर कप्तान धोनी ने अंत में मैच जिताऊ पारी खेली लेकिन ये टीम मुख्य रूप से अपने बॉलरों पर आश्रित है, जिसकी अगुवाई इमरान ताहिर कर रहे हैं.

Source: CricketCountry.com

दीपक चहर, रविंद्र जडेजा, ब्रावो भी अच्छा खेल दिखा रहे हैं, जिससे इमरान को मदद मिल रही है.

हालांकि पर्पल कैप धारी Kagiso Rabada दिल्ली की ओर से खेल रहे हैं लेकिन वो इस मैच में उपलब्ध नहीं है, दूसरे नंबर पर जिस सफ़ल गेंदबाज़ का नाम आता है वो हैं इमरान.

इन्होंने कुल 23 विकेट चटकाए हैं और इमरान का बेस्ट बॉलिंग फ़िगर 12 रन देकर 4 विकेट भी इसी सीज़न में निकल कर आया है. इस सीज़न में ताहिर ने 16.52 की औसत से बॉलिंग की है और उनका इकॉनमी रेट 6.62 का रहा है.

एक तरफ़ आंकड़े चेन्नई का पलड़ा भारी दिखा रहे हैं तो दूसरी ओर दिल्ली फ़ॉर्म में नज़र आ रही है लेकिन ये T-20 अनिश्चितताओं का खेल है. यहां कई टीम्स 39 ओवर तक जीता हुआ मैच 40वें ओवर में हार जाती हैं.