IPL 2021: आज से चेन्नई के एम.ए. चिदंबरम स्टेडियम में आईपीएल के 14वें संस्करण का आगाज़ होने जा रहा है. आपीएल 2021 का पहला मुक़ाबला मुंबई इंडियन्स और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के बीच होगा.  आईपीएल की सभी 8 टीम्स इस ट्रॉफ़ी को अपने घर ले जाने के लिए जी जान लगा देंगी. जो टीम जीतेगी वो इसे अपने पास एक साल तक रख सकेगी जब तक कि अगले आईपीएल की शुरुआत नहीं होती. 

लेकिन क्या कभी आपने ग़ौर किया है कि आईपीएल की ट्रॉफ़ी पर संस्कृत में कुछ लिखा हुआ है. ये क्या है और इसका मतलब क्या है. इसका जवाब आज हम आपको बताएंगे. 

 IPL Trophy
Source: iplt20

दरअसल, आईपीएल की ट्रॉफ़ी पर संस्कृत भाषा में इसका मोटो(उद्देश्य) लिखा हुआ है: 'यत्र प्रतिभा अवसरं प्राप्नोति: ' संस्कृत में लिखे होने के कारण बहुत कम लोगों को ही इसका मतलब पता होता है. इसका अर्थ है जहां प्रतिभा का अवसर प्राप्त करती है. 

ये भी पढ़ें: IPL 2021: आईपीएल इतिहास के वो टॉप 8 बैट्समैन जो बना चुके हैं सबसे ज़्यादा रन

 IPL
Source: economictimes

बात भी सही है आईपीएल के 13 सीज़न हो चुके हैं, 14वें की शुरुआत होने जा रही है. तब से लेकर अब तक देश और दुनिया की कई बेहतरीन प्रतिभाओं को इस टूर्नामेंट ने अपने टैलेंट को साबित करने का मौक़ा दिया है. यहां से निकल कर बहुत से प्लेयर अपने-अपने देश की नेशनल टीम में सेलेक्ट भी हुए हैं.

अब देखना ये है इस बार कौन से प्लेयर अपने टैलेंट का लोहा मनवाने में कामयाब होता है. और कौन इस बार ये ख़ूबसूरत ट्रॉफ़ी अपने घर ले जाता है? वैसे आपके हिसाब से इस बार आईपीएल कौन जीत सकता है? कमेंट बॉक्स में हमसे ज़रूर शेयर करें.