Who is Arshad Nadeem : इंग्लैंड के बर्मिंघम में चल रहे कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में भारत जबरदस्त प्रदर्शन कर रहा है. अब तक भारत अपने नाम 55 मेडल कर चुका है, जिसमें 17 गोल्ड, 15 सिल्वर और 23 ब्रॉन्ज मेडल हैं. वहीं, भारतीय खिलाड़ियों की तारीफ़ों के बीच एक पाकिस्तानी एथलीट भी चर्चा में है, जिसका नाम है अरशद नदीम. अरशद नदीम ने Commonwealth 2022 में 90 मीटर पार भाला फेंक गोल्ड मेडल हासिल किया है और साथ ही भारतीय खिलाड़ी नीरज चोपड़ा का रिकॉर्ड ब्रेक कर इतिहास रच दिया है. आइये, इस ख़ास लेख में जानते हैं कि कौन हैं पाकिस्तान के अरशद नदीम.   

geosuper

आइये, अब विस्तार से जानते हैं अरशद नदीम (Who is Arshad Nadeem in Hindi) के बारे में.

नीरज चोपड़ा का तोड़ा रिकॉर्ड   

deccanherald

Who is Arshad Nadeem in Hindi : पाकिस्तान के अरशद नदीम ने बर्मिंघम में चल रहे कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 में 90.18 मीटर दूर भाला फ़ेंक गोल्ड मेडल अपने नाम किया है. जानकर हैरानी होगी कि कॉमनवेल्थ की हिस्ट्री में पाकिस्तान ने पहली बार भाला फे़ंक प्रतियोगिता यानी जैवलिन थ्रो में गोल्ड मेडल जीता है. वहीं, इसी के साथ अरशद नदीम ने भारतीय जैवलिन थ्रो प्लेयर नीरज चोपड़ा का रिकॉर्ड भी ब्रेक कर दिया है. नीरज चोपड़ा अब तक का हाईएस्ट रिकॉर्ड 89.94m रहा है, जो उन्होंने इसी साल 30 जून को स्वीडन में आयोजित हुए Stockholm Diamond League में हासिल किया था. 


पिछले महीने नीरज चोपड़ा ने World Athletics Championships में 88.13 मीटर भाल फेंक भारत को रजत पदक दिलाया था. इस चैंपियनशिप में पाक खिलाड़ी अरशद नदीम पांचवें स्थान पर रहे थे.

“नीरज मेरा भाई है” 

Who is Arshad Nadeem in Hindi : भारतीय स्टार खिलाड़ी नीरज चोपड़ा फ़िटनेस इशु के चलते कोमनवेल्थ 2022 का हिस्सा नहीं हैं. जानकारी के अनुसार, वो ‘ग्रोइन स्ट्रेन’ (एक तरह की इंजरी, जो ग्रोइन की मांसपेशियों के ओवरस्ट्रेच के कारण पैदा होती है) की समस्या से पीड़ित हैं.


हालांकि, इस बीच अरशद नदीम ने नीरज चोपड़ा के लिए कहा,

वो मेरा भाई है और मुझे उसकी कमी यहां खल रही है. अल्लाह नीरज को स्वस्थ रखे और जल्द ही उनके साथ कंपीटिशन में भाग लेना का मौका दे.

-अरशद नदीम

नदीम आगे कहते हैं कि नीरज एक नेक इंसान हैं और हमारे बीच अच्छी फ़्रेंडशिप भी है. उन्होंने आगे उम्मीद जताई कि,

नीरज भारत के लिए हमेशा खेलते रहें और मैं भी पाकिस्तान के लिए अच्छा करता रहूं.

-अरशद नदीम

बता दें कि आज से चार साल पहले जब नीरज ने एशियाई खेलों में गोल्ड मेडल जीता था, तो वहीं, अरशद नदीम ने कांस्य पदक अपने नाम किया था.   

25 साल के हैं अरशद   

en.dailypakistan

अरशद नदीम 25 वर्ष के हैं. उनका जन्म 2 जनवरी, 1997 को पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के ख़ानेवाल में हुआ था. जानकारी के अनुसार, उनके पिता एक बिल्डिंग कॉन्ट्रेक्टर हैं और नदीम अपने पांच भाइयों में तीसरे नंबर पर हैं. अरशद के शुरुआती जीवन के बारे में बताया जाता है कि वो स्कूल के दिनों में एक असाधारण बहुमुखी एथलीट थे. उन्होंने अपने स्कूल के सभी खेलों जैसे क्रिकेट, बैडमिंटन, फ़ुटबॉल और एथलेटिक्स में हिस्सा लिया. वो क्रिकेट के प्रति काफ़ी जुनूनी थे और उन्होंने ज़िला-स्तरीय टेप-बॉल टूर्नामेंट में हिस्सा भी लिया था. 


जब 7वीं कक्षा में एक एथलीट की पड़ी उन पर नज़र   

indiatvnews

Who is Arshad Nadeem in Hindi : जैसा कि हमने बताया कि शुरुआती दिनों में अरशद ने कई गेमों के प्रति अपनी दिलचस्पी दिखाई, लेकिन ये जानना दिलचस्प हो सकता है कि कैसे जैवलीन में ही उन्होंने अपना करियर बनाया. दरअसल जब नदीम सातवीं कक्षा में आए, तो वो Rasheed Ahmad Saqi नामक के एथलीट की नज़र में आ गए, जिन्होंने कई बच्चों को खिलाड़ी बनाने का काम किया. जल्द ही राशिद अहमद ने अरशद नदीम को अपने अधीन कर लिया.  

जैवलीन से पहले शॉटपुट और डिस्कस थ्रो  

arabnews.pk

जैवलीन में करियर बनाने से पहले अरशद नदीम ने शॉटपुट और डिस्कस थ्रो भी किया था. पंजाब यूथ फे़स्टिवल्स में भाला फेंक में स्वर्ण पदक और इंटर-बोर्ड मीट ने उन्हें राष्ट्रीय स्तर पर पहुंचाने का काम किया. इसके बाद उनके पास पाक सेना, वायु सेना और WAPDA सहित कई प्रमुख घरेलू एथलेटिक्स टीमों के प्रस्ताव आने शुरु हो गए.

जैवलीन थ्रो कंपटीशन  

aaj.tv

Who is Arshad Nadeem in Hindi : जानकारी के अनुसार, अरशद नदीम ने 2015 से भाला फेंक प्रतियोगिताओं में हिस्सा लेना शुरू कर दिया था. 2016 में उन्हें विश्व एथलेटिक्स से छात्रवृत्ति मिली, जिसने उन्हें मॉरीशस में IAAF IAAF High Performance Training Centre में प्रशिक्षण के लिए योग्य बना दिया.  

बनाया नेशनल रिकॉर्ड  

news18

मई 2017 में नदीम ने बाकू में Islamic Solidarity Games में 76.33 मीटर के थ्रो के साथ कांस्य पदक अपने नाम किया. वहीं, अप्रैल 2018 में उन्होंने गोल्ड कोस्ट, ऑस्ट्रेलिया में आयोजित Commonwealth Games में भाला फेंक स्पर्धा के क्वालिफिकेशन राउंड में 80.45 भाला फेंका था.


अगस्त 2018 में उन्होंने इंडोनेशिया के जकार्ता में एशियाई खेलों में कांस्य पदक जीता, जहां उन्होंने 80.75 मीटर का राष्ट्रीय रिकॉर्ड बनाया. उन्होंने 2020 Summer Olympics में हिस्सा लिया और इसी के साथ वो ओलंपिक के लिए सीधी योग्यता प्राप्त करने वाले पहले पाकिस्तानी ट्रैक और फील्ड एथलीट बन गए.

जुलाई 2022 के दौरान अरशद नदीम ने पाकिस्तान के एकमात्र प्रतिनिधि के रूप में यूजीन (ओरेगन, USA) में 2022 विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप में भाग लिया. कोहनी की चोट के बावजूद उन्होंने 86.16 मीटर के थ्रो के साथ 5वां स्थान हासिल किया था. हालांकि, अब वो अपने खेल के गोल्ड मेडेलिस्ट हो चुके हैं. साथ ही वो 90 मीटर पार भाला फेंकने वाले पहले दक्षिण एशियाई भी बन गए हैं.